क्या चल रहा है?

66 नए पॉजिटिव आए, अब तक राज्य में 51 की मौत; कोटा में डेढ़ घंटे करना पड़ा एंबुलेंस का इंतजार तो ठेले पर पिता को लेकर निकला

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 852 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित
  • कोराना संकट के बीच राहत की खबर यह है कि अब तक प्रदेश में 584 लोग स्वस्थ भी हुए

जयपुर. राजस्थान में लॉकडाउन फेज 2 के 14वें दिन 66 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जिसमें कोटा में 19, जयपुर में 17, जोधपुर में 13, अजमेर में 11, टोंक में 3, धौलपुर में 2 और सीकर में 1 संक्रमित मिला। जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2328 पहुंच गया। वहीं कोटा में एक 60 साल के बुजुर्ग व्यक्ति की मौत भी हो गई। जिन्हे 27 अप्रैल को भी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

डेढ़ घंटे एंबुलेंस का इंतजार, ठेले पर लिटा पिता को लाया, अस्पताल में मौत
कोटा कर्फ्यूग्रस्त इलाके में एक अस्थमा रोगी को समय पर इलाज नहीं मिल पाया और उसकी मौत हो गई। परिजन कॉल करते रहे, लेकिन डेढ़ घंटे तक एंबुलेंस नहीं आई तो मरीज काे ठेले पर नयापुरा तक लाए। बाद में एक निजी एंबुलेंस से एमबीएस अस्पताल लेकर गए, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। फतेहगढ़ी, रामपुरा निवासी सतीश अग्रवाल (60) काे सुबह करीब साढ़े 11 बजे घर में ही अस्थमा का अटैक आया, वे पुराने अस्थमा पेशेंट थे।

मोदी ने सीएम गहलोत की तारीफ की, कहा- बाकी राज्य राजस्थान से सीखें
पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान राजस्थान सरकार की ओर से कोराेना को लेकर उठाए गए कदमों पर सीएम अशोक गहलोत खुलकर तारीफ की। पीएम मोदी ने अन्य राज्यों को भी राजस्थान का अनुसरण करने की नसीहत दी है। कहा कि मैं अशोक गहलोतजी को बधाई दूंगा, उन्होंने कई इनीसिएटिव लिए। गहलोत ने लेबर के लिए समय सीमा में बढ़ाेतरी की, ठीक है थोड़ी बहुत आलोचना हुई होगी, लेकिन राजस्थान ने एक दिशा दिखाई है, सभी राज्यों को ऐसी नई-नई चीजों को अपनाकर इसका अनुसरण करना होगा। इस संकट को हम बड़े अवसर में पलट सकते हैं।

भीलवाड़ा में दो नए केस आने के बाद लोगों की संक्रीनिंग की जा रही।राजस्थान: जयपुर में 17 नए पॉजिटिव केस आए, झालावाड़ में 10 डॉक्टर पॉजिटिव

जयपुर में मंगलवार के एक साथ 17 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इससे पहले सोमवार को  जयपुर में एक साथ 6 मौतें हुई। जयपुर में पिछले 4 दिन से लगातार मौतों का सिलसिला जारी है और 13 की जान जा चुकी है। इसी के साथ यहां मौतों का आंकड़ा 29 (2 यूपी से आए) पहुंच गया है। मृतकों में 6 लोग ऐसे हैं जिनकी उम्र 30 साल से कम थी।

झालावाड़: एमपी के युवक से रेजिडेंट में संक्रमण, अब तक 10 डॉक्टर पॉजिटिव
झालावाड़ जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यहां 4 रेजिडेंट डॉक्टर सहित 5 अन्य लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। ऐसे में झालावाड़ शहर में 10 रेजिडेंट डॉक्टर संक्रमित हो गए हैं। वहीं जिले में यह संख्या 40 हो गई है। शहर में रविवार रात 9 और कोरोना पॉजिटिव आने पर सोमवार को शहर के एक और एरिया में कर्फ्यू लगा दिया गया है। रेजिडेंट डॉक्टरों के लगातार कोरोना पॉजिटिव होने पर रेजिडेंट डॉक्टर एसोसिएशन ने 14 दिन के क्वारैंटाइन में रहने का निर्णय लिया है। इसके बाद अस्पताल प्रशासन ने मरीजों के इलाज के लिए फेकल्टी की ड्यूटियां लगाई हैं।

चित्तौड़गढ़: निंबाहेड़ा बना कोरोना हॉट स्पॉट, लखारा गली में 7 नए पॉजिटिव

चित्तौड़गढ़ जिले का निंबाहेड़ा कस्बे की लखारा गली जयपुर के रामगंज और भीलवाड़ा के बांगड़ अस्पताल की तरह कोरोना एपिक बनती दिख रही है। यहां 7 और पॉजिटिव केस आए है। ऐसे में कोरोना पॉजिटिव की संख्या आठ हो गई। इनमें शनिवार को पॉजिटिव मिले सर्राफा व्यापारी की पत्नी व बेटी के साथ बाकी पांचों पड़ोसी है। निंबाहेड़ा के 4 डॉक्टरों सहित अस्पताल स्टाफ के अधिकांश सैंपल निगेटिव है। इससे यह साफ होने लगा है कि कोरोना लखारा गली से ही फैला। संभवत: सबसे पहले यह सर्राफा व्यापारी चपेट में आया।

उदयपुर में कोरोना वार्ड में ड्यूटी देने वाली 55 वर्षीय नर्स पॉजिटिव मिली
उदयपुर में एमबी की सुपर स्पेशियलिटी विंग के सेकंड फ्लोर स्थित कोरोना निगेटिव वार्ड की प्रभारी 55 वर्षीय महिला नर्स में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। ये एमबी की दूसरी नर्स हैं जो पॉजिटिव आई हैं। इससे पहले रजा कॉलोनी निवासी नर्स पॉजिटिव आ चुकी है। सोमवार को पॉजिटिव आईं न्यू भूपालपुरा के पन्ना विहार निवासी ये नर्स गत 20 अप्रैल से होम क्वारैंटाइन में थी। 19 अप्रैल तक इसने ड्यूटी की थी। नर्स ने बताया कि वह थायराइड ग्रसित है। गत 12 और 19 अप्रैल की उसकी रुटीन जांच रिपोर्ट में निगेटिव आई थी।

जोधपुर में पुलिस का फ्लैग मार्च।
  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 852 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 435 (इसमें 47 ईरान से आए), कोटा में 184, अजमेर में 135, टोंक में 126, भरतपुर में 110, नागौर में 116, बांसवाड़ा में 62, जैसलमेर में 49 (इसमें 14 ईरान से आए), झुंझुनूं में 42, झालावाड़ में 40, बीकानेर में 37, भीलवाड़ा में 35 मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 21, चूरू में 14, हनुमानगढ़ में 11, सवाईमाधोपुर में 8, चित्तौड़गढ़ में 8, अलवर में 7, डूंगरपुर में 6, सीकर में 6, उदयपुर में 6, धौलपुर में 7, करौली में 3, पाली में 3, बाड़मेर और प्रतापगढ़ में 2-2 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। वहीं राजसमंद में 1 संक्रमित मिला है।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 51 लोगों की मौत हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मौत जयपुर में हुई है। यहां 29 जयपुर (जिसमें दो यूपी से) की जान जा चुकी है। इसके अलावा, जोधपुर में 6, कोटा में 6, भीलवाड़ा, सीकर और भरतपुर में 2-2, अलवर, बीकानेर, नागौर और टोंक में एक-एक की जान जा चुकी है।
  • कोराना संकट के बीच राहत की खबर यह है कि अब तक प्रदेश में 584 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। जयपुर में 246 (2 इटली के नागरिक), जोधपुर 81, बीकानेर में 36, भीलवाड़ा में 24, जैसलमेर में 30, बांसवाड़ा में 31, झुंझुनू 38, टोंक में 35, चुरू 12, नागौर में 9, कोटा में 5, डूंगरपुर 5, दौसा में 5, झालावाड़ और भरतपुर में 4-4, हनुमानगढ़, सीकर, पाली और प्रतापगढ़ में दो-दो, बाड़मेर अलवर और करौली में एक-एक  मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। इसके अलावा, ईरान से जोधपुर और जैसलमेर लाए गए 8 लोगों भी संक्रमण से मुक्त हुए हैं।

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832