क्या चल रहा है?

24 घंटे में 9 नए केस; संक्रमितों की संख्या 381 पहुंची, बुजुर्ग की मौत के बाद आई पॉजिटिव रिपोर्ट, अखिलेश बोले- वुहान न बन जाए

  • आगरा में अब तक 10 लोगों की जान कोरोनावायरस से गई, यह यूपी में सबसे ज्यादा
  • अखिलेश ने आगरा मॉडल के बहाने योगी सरकार को घेरा

आगरा. ताजनगरी आगरा में कोरोनावायरस के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण व मौत के मामलों से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। रविवार की शाम यहां तीन दिन पहले मृत हुए 70 साल के दूध कोरोबारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। यह आगरा में कोरोनावायरस से 10वीं मौत है। वहीं, बीते 24 घंटे में 9 नए केस सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या 381 पहुंच गई है। वहीं, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए टि्वट किया है कि, आगरा मॉडल फेल है। ये कहीं वुहान न बन जाए।

23 अप्रैल को हुई थी बुजुर्ग की मौत

मोती कटरा निवासी 70 वर्षीय दूध कारोबारी की 22 अप्रैल को तबियत खराब हुई थी। इसके बाद परिजनों ने उन्हें एसएन अस्पताल में भर्ती करवाया। लेकिन 23 अप्रैल की सुबह मौत हो गई। शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया गया। 24 अप्रैल को प्रशासन ने परिजनों को शव सौंप दिया था। बाद में विद्युत शवदाह ग्रह पर शव का अंतिम संस्कार करा दिया गया। रविवार को उनकी रिपोर्ट में कोरोना मिलने की पुष्टि हुई।

प्रमुख सचिव और एडीजी पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों के साथ लगातार बैठक ले रहे हैं। दोनों अफसरों ने मंटोला, नाई की मंडी समेत कई हॉटस्पॉट का निरीक्षण किया। इसके बाद हॉटस्पॉट क्षेत्रों में बदलाव किया गया है। इसका दायरा अब 800 मीटरे से बढ़ाकर 1 किमी कर दिया गया है। इस तरह 90 हॉटस्पॉट को मर्ज करके 33 कर दिया गया है। अब प्रशासन ने इन 33 हॉटस्पॉट को सैनिटाइज कराने में जुटा है।

अखिलेश बोले- जागो सरकार जागो
आगरा में कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने टि्वट कर लिखा- मुख्यमंत्री द्वारा बहुप्रचारित कोरोना से लड़ने का आगरा मॉडल मेयर के अनुसार फेल होकर आगरा को वुहान बना देगा। न जांच, न दवाई, न अन्य बीमारियों के लिए सरकारी या प्राइवेट अस्पताल, न जीवन रक्षक किट और उस पर क्वॉरैंटाइन सेंटर्स की बदहाली प्राणांतक साबित हो रही है। जागो सरकार जागो!

 

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832