क्या चल रहा है?

24 घंटे के अंदर दिल्ली में 20 नए केस और एक मौत, अब तक 525 संक्रमित

  • दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 525
  • संक्रमितों में 330 केस जमात से जुड़े हुए

दिल्ली में कोरोना पीड़ितों की तादाद 525 हो गई है. इनमें से करीब 330 जमात के हैं. पिछले 24 घंटे के अंदर दिल्ली में 20 नए केस आए हैं. इनमें 10 केस जमात से जुड़े हैं. इसमें एक की मौत हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि जमात के केस न होते तो महामारी पर काबू पाना आसान होता. दूसरी तरफ तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने दूसरा नोटिस जारी कर दिया है.

दिल्ली में आज निजामुद्दीन मरकज के सबसे ज्यादा कोरोना मरीज हैं. इन मरीजों के इलाज में सहयोग न करने की शिकायतें भी आ रही हैं. दूसरी तरफ तबलीगी जमात का चीफ मौलाना साद अब तक फरार है. क्राइम ब्रांच ने उसके सेल्फ क्वारनटीन में होने की दलील को इस आधार पर खारिज कर दिया कि उसके पास ऑनलाइन अपनी सफाई देने का मौका है.

1800 लोगों की रिपोर्ट का इंतजार

इधर, दिल्ली के मुताबिक तबलीगी जमात की वजह से कोरोना मरीजों की तादाद तेजी से बढ़ी. वहीं 1800 लोगों की अभी रिपोर्ट आना बाकी है, जिसके बाद आंकड़ा और बढ़ने की आशंका है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि टेस्टिंग में तेजी से भी आंकड़ा बढ़ा है. कोरोना वायरस की चपेट में दिल्ली के मेडिकल स्टाफ भी आ गए हैं.

डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ भी संक्रमित

दिल्ली के स्टेट कैंसर अस्पताल में 3 डॉक्टर कोरोना की चपेट में आ गए हैं, जबकि 12 नर्सिंग स्टाफ का भी कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है. इन्हें पूर्वी दिल्ली के राजीव गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है. यहां एक रेजीडेंट डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए. बाद में उनकी डॉक्टर पत्नी की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव मिली. दिल्ली के एक और बड़े अस्पताल सर गंगाराम में भी 100 स्टाफ को क्वारनटीन किया गया है.

मामले में तेजी के लिए जमात जिम्मेदार

इससे पहले आजतक से खास बातचीत में दिल्ली सरकार के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने साफ तौर पर जमात को कोरोना के मामलों में आई तेजी के लिए जिम्मेदार ठहराया. इन सबके बावजूद जमात का रवैया असहयोग का रहा है.

इस बीच न्यूज ब्रॉडकास्टिंग एसोसिएशन ने शिकायत की है कि न्यूज चैनल के एंकरों और रिपोर्टर्स को जमात से जुड़े लोग सोशल मीडिया के जरिए धमकी दे रहे हैं. एनबीए ने सरकार और सुरक्षा एजेंसियों से इन पर कार्रवाई की अपील की है.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832