क्या चल रहा है?

सोनिया, ममता, मनमोहन को पीएम मोदी का फोन, प्रणब-प्रतिभा पाटिल से भी बात

  • कोरोना पर तैयारियों को लेकर हुई बात
  • इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने पहले भी की है चर्चा

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रतिभा पाटिल से बात की. इसके साथ ही उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एचडी देवगौड़ा से भी इस विषय पर चर्चा की. पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा नरेंद्र मोदी ने अलग-अलग पार्टियों के नेताओं से भी चर्चा की. इन नेताओं में सोनिया गांधी, मुलायम सिंह, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक, के चंद्रशेखर राव, स्टालिन और प्रकाश सिंह बादल के नाम शामिल हैं.

देश में कोरोना महामारी पर सरकार की तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री अलग-अलग लोगों से लगातार बात कर रहे हैं. इसी कड़ी में उन्होंने रविवार को पूर्व राष्ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री और अलग-अलग पार्टी के नेताओं से चर्चा की. देश फिलहाल कोरोना वायरस की महामारी से कैसे जूझ रहा है और सरकार की इसके खिलाफ क्या तैयारियां हैं, इस पर चर्चा की गई.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से भी 2 अप्रैल को बात की थी. इस दौरान राज्यों ने केंद्र सरकार से मेडिकल किट, बकाया पैसे के साथ ही आर्थिक मदद की मांग की थी. मुख्यमंत्रियों से बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हम कोशिश कर रहे हैं कि राज्य सरकारों से बेहतरीन समन्वय स्थापित किया जा सके, क्योंकि कोरोना की लड़ाई हम सबको मिलकर लड़नी है. केंद्र सरकार हर कदम पर राज्य सरकार का साथ देगी. उन्होंने राज्यों के मेडिकल सुविधाओं के बारे में भी जानकारी ली थी. इसके साथ ही क्वारनटीन सेंटर की हालत की विस्तृत रिपोर्ट ली थी.

बता दें, कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार बैठकें कर रहे हैं. शनिवार को उन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ लगी अलग-अलग टीमों से बातचीत की. पीएम मोदी ने अस्पताल और आइसोलेशन की क्या सुविधा है इसके बारे में जाना. उन्होंने मेडिकल स्टाफ का पूरा ध्यान रखने का भी निर्देश दिया और कहा कि उनको किसी चीज की कमी नहीं हो. पीएम मोदी ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने अस्पतालों की उपलब्धता, आइसोलेशन और क्वारनटीन सुविधाओं के साथ-साथ रोग निगरानी, टेस्टिंग और महत्वपूर्ण देखभाल प्रशिक्षण को लेकर तैयारियों की समीक्षा की.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832