क्या चल रहा है?

सीतापुर में क्वारैंटाइन सेंटर से 18 फरार; डीएम ने प्रधान को गिरफ्तार कराया, कई अधिकारियों पर गिरी गाज

  • सीतापुर जिले के पिसावां थाना क्षेत्र के पिपरी सादीपुर गांव का मामला
  • डीएम ने लेखपाल व सेकेट्री को सस्पेंड किया और बीडीओ, तहसीलदार और अस्पताल अधीक्षक को प्रतिकूल प्रविष्टि
  • एसडीएम महोली पर भी कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिखा

सीतापुर. उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में क्वारैंटाइन किए गए 18 मजदूर फरार हो गए हैं। इसका खुलासा गुरुवार देर रात डीएम-एसपी के औचक निरीक्षण से हुआ। डीएम ने ग्राम प्रधान के खिलाफ केस दर्ज कराकर उसे गिरफ्तार करवा लिया। वहीं इस लापरवाही का खामियाजा कई अधिकारियों और कर्मचारियों को भुगतना पड़ा है। डीएम ने इस मामले में जहां दो कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया तो वहीं दो अधिकारियों को प्रतिकूल प्रविष्ट दी है। एसडीएम महोली पर भी कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिखा है।

ये मामला जिले के पिसावां थाना क्षेत्र के पिपरी सादीपुर गांव का है। यहां पर कुछ दिन पहले बाहर से मजदूरी करके गांव आए 18 लोगों को गांव के ही एक स्कूल में क्वारैंटाइन किया गया था। गुप्त सूचना पर बीती रात अचानक डीएम और एसपी इस क्वारैंटाइन सेंटर का निरीक्षण करने पहुंच गए। इस निरीक्षण के दौरान क्वारैंटाइन सेंटर खाली मिला। जिसपर डीएम ने नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम प्रधान पर मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार करने का निर्देश जारी कर दिया।

वहीं, शुक्रवार सुबह होते होते इस मामले ने तूल पकड़ लिया और मामले में लापरवाही को लेकर डीएम ने लेखपाल और सेक्रेट्री को सस्पेंड कर दिया। बीडीओ, तहसीलदार और अस्पताल अधीक्षक को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी की गई। वहीं एसडीएम महोली पर कार्रवाई के लिए डीएम ने शासन को लिखा है। डीएम अखिलेश तिवारी का कहना है कि इस महामारी में जिस भी क्वारैंटाइन सेंटर पर लापरवाही बरती जाएगी, वहां से संबंधित अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Source :www.bhaskar.com

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832