क्या चल रहा है?

वाधवान परिवार महाबलेश्वर से हिरासत में, BJP नेता ने पूछा- VIP पास कैसे मिला?

  • कपिल और धीरज वाधवान समेत 22 लोगों को महाबलेश्वर से हिरासत में
  • येस बैंक मामले में भी वाधवान बंधु का नाम, ED के समन पर नहीं पहुंचे

कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन घोषित है, देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आ रहे हैं. सरकार हर किसी को सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दे रही है, लेकिन इस बीच महाराष्ट्र की पंचगनी पुलिस ने चर्चित DHFL मामले जुड़े कपिल और धीरज वाधवान समेत 22 लोगों को महाबलेश्वर से हिरासत में लिया है.

पुलिस कर रही है जांच

फिलहाल पुलिस महाबलेश्वर से वाधवान परिवार के इन 22 लोगों को लेकर पंचगनी के बेल एयर अस्पताल पहुंची है. पुलिस का कहना है कि जांच की जा रही है कि अगर इन लोगों ने लॉकडाउन का नियम तोड़ा होगा, तो इनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा.

राज्यपाल से हस्तक्षेप की अपील

वहीं इस मामले को लेकर राजनीति तेज हो गई, बीजेपी नेता किरीट सौमेया ने इस मामले को महाराष्ट्र सरकार को घेरा है. बीजेपी नेता का आरोप है कि लॉकडाउन के बीच वाधवान परिवार मुंबई से महाबलेश्वर कैसे पहुंच गया, क्या सरकार येस बैंक के आरोपियों को VVIP ट्रीटमेंट दे रही थी. उन्होंने इस मामले में महाराष्ट्र के राज्यपाल को हस्तक्षेप करने की अपील की है.

वहीं इस बीच एक पत्र सामने आया है जिसमें महाराष्ट्र सरकार के गृह विभाग के विशेष सचिव और एडिशनल डीजीपी अमिताभ गुप्ता ने अपने आधिकारिक पत्र पर वाधवा परिवार के सदस्यों को खंडाला से महाबलेश्वर जाने की इजाजत दी है.

कई मामलों में आरोपी वाधवान बंधु

दरअसल, डीएचएफएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक कपिल वाधवान (47) गैर-कार्यकारी निदेशक धीरज वाधवान के खिलाफ पहले से एक अन्य मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच चल रही है, जिसमें कपिल वाधवान को ईडी ने गिरफ्तार भी किया था. लेकिन फिलहाल वह जमानत पर बाहर हैं. वहीं YES बैंक फर्जीवाड़े मामले में राणा कपूर के खिलाफ जांच चल रही है, इसमें भी मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के दायरे में अब वाधवान बंधु भी ईडी और सीबीआई के रडार पर हैं.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

पिछले महीने ईडी के बुलावे पर नहीं पहुंचे थे

गौरतलब है कि पिछले महीने ईडी ने वाधवान बंधुओं को यस बैंक मामले में पूछताछ के लिए समन किया था. तब कपिल वाधवान ने ईडी को भेजे जवाब में कहा था कि ‘मैं स्वास्थ्य परेशानियों से गुजर रहा हूं. कोरोना वायरस महामारी और मेरी उम्र के चलते मेरी पहले से खराब सेहत को अधिक जोखिम है. इसलिए मेरे लिए मुंबई की यात्रा करना मुश्किल है.’ उनके भाई धीरज वाधवान ने भी कुछ इसी तरह का पत्र ईडी को भेजा था.

इसे भी पढ़ें: लोन की EMI पर मोहलत का आपको कितना हो रहा नुकसान, ये है कैलकुलेशन

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832