क्या चल रहा है?

लॉकडाउन खत्म करने के लिए 3 घंटे तक चली बैठक, रेलवे-उड्डयन और कृषि क्षेत्र पर चर्चा

  • लॉकडाउन खत्म करने के तौर-तरीकों पर चर्चा
  • लॉकडाउन को क्रमवार तरीके से हटाने का विचार
  • 14 अप्रैल तक है देशव्यापी लॉकडाउन की मियाद

लॉकडाउन खत्म करने के तौर तरीकों पर सरकारी महकमे में लगातार मीटिंग चल रही है. इस बाबत सोमवार को अधिकार प्राप्त कमेटी (Empowered committee) ने लंबी और मैराथन बैठक की. गृह सचिव की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में 11 संस्थानों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की. लगभग 6 बजे शुरू हुई ये बैठक रात के 9 बजे तक चली. इस दौरान लॉकडाउन से एग्जिट प्लान पर चर्चा हुई.

बैठक में लॉकडाउन को क्रमवार तरीके से हटाने पर चर्चा हुई. इसके अलावा इन विषयों पर भी इन इस मीटिंग में लंबी चर्चा हुई. केन्द्र सरकार कोरोना के हॉटस्पॉट एरिया को ब्लॉक करने पर विचार कर रही है. इसके अलावा सरकार आर्थिक केंद्रों को क्रमवार तरीके से खोलने पर विचार कर रही है.

बैठक में हर सेक्टर पर लॉकडाउन के असर का आकलन किया गया. इसके अलावा लॉकडाउन के असर को कम कैसे किया जा सकता है, इस पर भी चर्चा की गई.

रेलवे और उड्डयन क्षेत्र पर असर का अध्ययन

बैठक में नागरिक उड्डयन और रेलवे पर पड़े असर का अध्ययन किया गया.

इसके अलावा लॉकडाउन की वजह से शिक्षा क्षेत्र किस तरह प्रभावित हुआ इस पर भी चर्चा हुई. इस दौरान ये भी देखा गया कि लॉकडाउन के वक्त ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स ने कैसे काम किया है. बता दें कि लॉकडाउन की वजह से प्रतियोगिता परीक्षाएं बंद हैं. सीबीएसई परीक्षाओं की तारीखें भी बढ़ा दी गई हैं.

कृषि क्षेत्र पर विस्तृत चर्चा

बैठक में कृषि क्षेत्र पर विस्तृत चर्चा की गई. जैसे की ऐसे कितने जिले हैं जहां फसलों की कटाई की जानी है. यहां से अनाज को मंडियों तक लाने की क्या सुविधा है. बैठक में हर जिले के हिसाब से ये तय किया गया कि जरूरी फसलें उपभोक्ता तक पहुंचे और सप्लाई चेन बरकरार रहे

पीएम मोदी लेंगे अंतिम फैसला

बता दें कि मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में ऐसी ही एक मीटिंग और होगी. इसके बाद अंतिम फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेना है.

इस बैठक में नीति आयोग के अधिकारी, नागरिक उड्डयन मंत्रालय के प्रतिनिधि, दवा मंत्रालय के अधिकारी, कृषि मंत्रालय के ऑफिसर, उद्योग और व्यापार मंत्रालय के अधिकारी, रेलवे बोर्ड के अधिकारी, मानव संसाधन मंत्रालय के ऑफिसर, FICCI और CII के प्रतिनिधि शामिल रहे.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832