क्या चल रहा है?

लॉकडाउन के बीच घर से निकले शख्स ने गले में टांगी तख्ती; लिखा- ऑपरेशन हुआ है, ड्रेसिंग करवाने जा रहा हूं

  • तख्ती टांगकर निकलने वाला शख्स मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन का अध्यक्ष
  • बोला- मैं कानून का कर रहा पालन, उन लोगों के लिए भी सबक तो बेवजह निकलते हैं घरों से बाहर

रायबरेली. उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में कोरोनावायरस से बढ़ते मामले प्रशासन के लिए चुनौती साबित हो रहे हैं। ऐसे में प्रशासन ने लॉकडाउन को सख्ती से पालित कराने का निर्देश जारी किया है। इस बीच रोड पर बेवजह निकलने वालों को पुलिस कड़ा सबक भी दे रही है। ऐसे में यदि किसी को कोई इमरजेंसी है तो वह ठोस वजह लेकर निकल रहा है। यहां एक शख्स ने हाल ही में ऑपरेशन कराया है। अब उन्हें ड्रेसिंग की जरुरत थी। लेकिन घर के बाहर पुलिस का पहरा था। ऐसे में उन्होंने गले में तख्ती टांग ली। जिसमें लिखा था- ‘ऑपरेशन हुआ है, ड्रेसिंग करवाने जा रहा हूं।’

पुलिस मेरी भावनाओं को समझती है
गले में तख्ती टांगने वाले शख्स मोटर ट्रांसपोर्ट यूनियन के अध्यक्ष राम मोहन श्रीवास्तव हैं। वे कहते हैं कि, मेरी इमरजेंसी है, मेरा आपरेशन हुआ है। मुझे रोज ड्रेसिंग कराने अस्पताल जाना पड़ता है। इसलिए मैंने ऐसा किया। मैं अपने देश के कानून का पालन कर हूं और मेरी पुलिस बहुत अच्छा काम कर रही है। मैं रोज निकलता हूं। पुलिस मेरी भावनाओं को समझती है। निरंतर आठ दिन से मैं अपनी ड्रेसिंग कराने जाता हूं। इसी तरह आता जाता हूं।

दूसरों को भी मिले सबक
तख्ती लटकाने के सवाल पर उन्होंने कहा- ये गले में इसलिए लगाया हूं कि कम से कम पुलिस तस्दीक करे कि मैं इमरजेंसी में जा रहा हूं। ये जो जबरदस्ती सड़कों पर घूमने वाले लोग जो जबरदस्ती लाकडाउन का पालन नहीं कर रहे हैं। उनको बताना चाहता हूं के आपकी मजबूरी हो तभी लाकडाउन में निकले अन्यथा अपने घरों में रहें। बता दें कि जिले में अब तक कोरोना के 44 पाजिटिव मरीज मिल चुके हैं। इसके चलते प्रशासन ने यहां चाक चौबंद बढ़ा दिया है। ऐसे में कोई सड़क पर बिना परमीशन निकल नही सकता।

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832