क्या चल रहा है?

लॉकडाउन के दौरान में छात्रों को मानसिक व कैरियर संबंधी परामर्श देने के लिए 42 काउंसलर नियुक्त किए

  • 10वीं व 11वीं के स्टूडेंट्स काउंसलर से कर रहे सवाल-रिजल्ट का क्या होगा, कैसे और कब होंगे एडमिशन
  • एससीईआरटी की ओर से काउंसलरों की लिस्ट में बदलाव किया गया है, जिसमें नए नाम शामिल किए हैं।

गुड़गांव. कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए किए लॉकडाउन के दौरान छात्रों को मानसिक स्वास्थ्य और कैरियर संबंधी परामर्श देने के लिए शिक्षा विभाग ने जिला स्तर पर काउंसलरों की नियुक्ति की है, जोकि छात्रों को विभिन्न मामलों में सलाह दे रहे हैं। हालांकि अभी कम ही कॉल काउंसलरों के पास आ रही हैं, लेकिन इनमें ज्यादातर 10वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम और 11वीं कक्षा में दाखिलों के बारे में जानकारी ली जा रही है। इसके साथ ही बारहवीं कक्षा कि बाकी परीक्षाओं को लेकर भी अभिभावक और छात्र पूछ रहे हैं। इसके साथ ही एससीईआरटी की ओर से काउंसलरों की लिस्ट में बदलाव किया गया है, जिसमें कुछ नए नाम शामिल किए हैं।
42 काउंसलरों की नियुक्ति की गई है 
बता दें कि राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद गुडग़ांव (एससीईआरटी) ने सभी जिलों के लिए 42 काउंसलरों की नियुक्ति की है और उनके मोबाइल नंबर भी जारी किए हैं, ताकि छात्र कॉल करके अपनी समस्याएं काउंसलर के साथ सांझा कर सकें। गुड़गांव जिला में नियुक्त काउंसलर दीपिका अग्रवाल ने बताया कि फिलहाल कम ही छात्र जानकारी लेने के लिए कॉल कर रहे हैं। आगामी दिनों में कॉल की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। बोर्ड के छात्रों को अभी अधिक चिंता है ऐसे में उनके अभिभावक भी परीक्षाओं और परिणामों को लेकर परामर्श ले रहे हैं।

पहली बार सभी जिलों में दो-दो काउंसलर किए गए हैं नियुक्त
गुड़गांव में नियुक्त काउंसलर दीपिका ने बताया कि सभी जिलों में एससीईआरटी की ओर से दो-दो काउंसलर नियुक्त किए गए हैं। जो लॉकडाउन के दौरान स्टूडेंट्स के मन में उठ रहे सवालों का जवाब देकर उनकी जिज्ञासा को शांत करेंगे। इसके लिए अभी कॉल आनी शुरू हो गई हैं, जिनके जवाब देकर स्टूडेंट्स को शांत किया जा रहा है।

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832