क्या चल रहा है?

लापरवाही की शिकायत मिली, पंचायती राज विभाग ने बीडीपीओ को किया सस्पेंड

 

पलवल. जिले के हथीन उपमंडल में लॉकडाउन के दौरान उटावड़ थाने में ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए बीडीपीओ नरेंद्र ढुल को कार्य में लापरवाही बरतने की शिकायत मिलने के बाद सस्पेंड कर दिया गया है।
शिकायतों के आधार पर बुधवार को पंचायती राज विभाग के मुख्य सचिव सुधीर राजपाल की ओर ये आदेश जारी किया। लॉकडाउन के दौरान उटावड़ थाना क्षेत्र में हथीन के बीडीपीओ नरेंद्र ढुल को ड्यूटी मजिस्ट्रेट की जिम्मेदारी दी हुई थी। 24 अप्रैल को मंसूर सादिक अपने दोस्त के साथ खेती करने के बाद घर लौट रहे थे, तभी उटावड़ गांव के निकट स्थित पैट्रोल पंप के समीप उनके साथ मारपीट व गाली-गलौच की गई। शिकायत में बताया कि यह मारपीट करने वाला कोई नहीं नरेंद्र ढुल थे। मंसूर सादिक ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि उन्हें जानबूझ कर टारगेट किया गया था।

वहीं उनका कोरोना वायरस के लिए सैंपल भी लिया गया। जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। पीड़ित ने अपना मेडिकल कराया था। पीडित ने दो दिन पूर्व अपनी शिकायत डीएसपी यशपाल खटाना को दी थी और बीडीपीओ के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। इसके अलावा भी ड्यूटी में लापरवाही के कई मामले बीडीपीओ के खिलाफ मिलने की जिला प्रशासन की तरफ से पुष्टि की गई है। मामलों की गंभीरता को देखते हुए पंचायती राज विभाग के मुख्य सचिव सुधीर राजपाल ने हथीन के बीडीपीओ नरेंद्र ढुल को निलंबित करने के आदेश जारी कर दिए।

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832