क्या चल रहा है?

राष्ट्रपति के सचिव रहे संजय कोठारी ने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त की शपथ ली, उन्होंने सर्टिफिकेट के खुद से सत्यापन करने की शुरुआत की थी

  • राष्ट्रपति भवन में रामनाथ कोविंद ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई
  • पिछले साल जून में केवी चौधरी के सेवानिवृत्त होने के बाद यह पद खाली हुआ था

नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सचिव रहे संजय कोठारी ने शनिवार को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) पद की शपथ ली। राष्ट्रपति भवन में कोविंद ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू भी मौजूद थे। कोठारी ने सर्टिफिकेट पर गजेटेड अफसर के बजाय खुद से सत्यापन करने की शुरुआत की थी।

सीवीसी का पद पिछले साल जून में केवी चौधरी के सेवानिवृत्त होने के बाद खाली हुआ था। 63 साल के कोठारी का कार्यकाल अगले साल जून तक रहेगा। कोठारी 1978 बैच के हरियाणा कैडर के आईएएस अफसर थे। 2016 में वे डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग के सचिव पद से रिटायर हुए थे। जुलाई 2017 में उन्हें राष्ट्रपति का सचिव बनाया गया था।

समारोह में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया 
समारोह में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा गया था। दरबार हॉल में एक निश्चित दूरी पर कुर्सियां लगी थीं। आगे की कतार में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उपस्थित थे। वहीं, शपथ समारोह में मौजूद सभी लोग मास्क लगाए दिखे।

शपथ समारोह में फर्स्ट लेडी सविता कोविंद (दाएं) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (बीच में)।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सविता कोविंद और उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू।

कांग्रेस ने कोठारी की नियुक्ति का विरोध किया था 
कोठारी के नाम की सिफारिश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली उच्चस्तरीय चयन समिति ने पिछले फरवरी में की थी। उस वक्त कांग्रेस ने कोठारी के नियुक्ति का विरोध किया था। कांग्रेस का कहना था कि सरकार ने सीवीसी की नियुक्ति में जो प्रक्रिया अपनाई वह अवैध, गैरकानूनी और असंवैधानिक हैं। सरकार को इस फौरन रद्द कर देना चाहिए। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा था कि इसके लिए नए सिरे से प्रक्रिया शुरू की जाए और फिर से आवेदन मंगाएं जाएं।

सबसे नया

To Top
//stawhoph.com/afu.php?zoneid=3256832