वायरल न्यूज़

बर्थडे स्पेशल : बचपन में राधिका मदान का मजाक उड़ाते थे लोग, अपने कॉन्फिडेंस से बनीं स्टार

फ़िल्म इंडस्ट्री में ऐसी कई एक्ट्रेसेस हैं जिन्होंने छोटे पर्दे पर कमाल करने के बाद बड़े पर्दे पर कदम रखा है. जिनमें से कुछ एक्ट्रेसेस सफल रहीं तो कुछ को असफलता का मुंह देखना पड़ा. टीवी एक्ट्रेस राधिका मदान ने भी छोटे पर्दे के बाद ही बड़े पर्दे पर डेब्यू किया और वह सफल भी रहीं. राधिका की एक्टिंग दर्शकों को काफी पसंद आती है. आज राधिका के जन्मदिन के मौके पर हम आपको उनके करियर से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें बताने जा रहे हैं –

 

View this post on Instagram

 

Thankyou @manishmalhotra05 for making me look like this!🤗💕 #voguethepowerlist2019 @who_wore_what_when @ritikavatsmakeupandhair @deepalid10

A post shared by Radhika Madan (@radhikamadan) on Dec 9, 2019 at 11:53pm PST

//www.instagram.com/embed.js

राधिका ने साल 2014 में आए शो ‘मेरी आशिकी तुमसे ही’ से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी. वहीं साल 2018 में उन्होंने विशाल भारद्वाज की फ़िल्म ‘पटाखा’ से बॉलीवुड डेब्यू किया. छोटे पर्दे से बड़े पर आने के अपने सफर को लेकर बात करते हुए राधिका ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था- ‘मुझे लगता है कि मैं हमेशा से ही इंडियन फिल्म इंडस्ट्री में हीरोइन बनने का सपना देखा था. मैं दिल्ली से हूं मेरा कोई फिल्मी बैकग्राउंड नहीं रहा है. मैं इस इंडस्ट्री में किसी को नहीं जानती थी. लेकिन मेरा यह सपना था कि मैं एक स्टार बनूं. लेकिन कब और कैसे इस बारे में कोई आइडिया नहीं था. मेरी मां मुझ पर हंसती थीं क्योंकि मैं दूसरी क्लास से ही अपना ऑटोग्राफ देने की प्रैक्टिस करती थी क्योंकि मुझे पता था कि मुझे एक हीरोइन बनना है. मैं हमेशा से बड़े सपने देखती थी और जो किरदार मैंने अंग्रेजी मीडियम में निभाया है वो मेरी लाइफ से काफी मिलता है. मुझे लगता है कि जब तक कोई आपके सपनों पर नहीं हंसता तब तक आप बड़े सपने नहीं देखते.’

 

View this post on Instagram

 

Bourbon on the rocks, please!

A post shared by Radhika Madan (@radhikamadan) on Dec 29, 2019 at 4:30am PST

//www.instagram.com/embed.js

इसके साथ ही जब राधिका से यह पूछा गया था कि कभी उनके साथ ऐसा हुआ है कि लोग उनके सपनो पर हंसे हो. तो इस बात का जवाब देते हुए उन्होंने कहा था – ‘मेरे पास एक यूनिब्रो था, मैं एक ऐसी पंजाबी बच्ची थी जो हमेशा से ऑटोग्राफ देती थी और कहता थी कि एक दिन इसे लेने के लिए तुम्हें लाइन में खड़ा होना पड़ेगा. मेरी इन बातों पर लोग हंसते हुए मेरा मजाक उड़ाते थे और कहते थे कि तुमने अपना चेहरा देखा है? मुझे पता था कि अगर लोग मुझ पर हंस रहे हैं, तो मैं सही जा रही हूं. मैंने फिल्मों के लिए टीवी छोड़ने का फैसला किया लोगों ने मुझ पर हंसते हुए कहा कि ‘कुछ नहीं होगा’ लेकिन मैं दूसरों के लिए अपनी महत्वाकांक्षाओं को कम करने या सपने देखना बंद नहीं करूंगी.’

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832