क्या चल रहा है?

पलवल जिले की 82 औद्योगिक इकाइयां शुरू, 6800 कर्मचारी करेंगे काम

पलवल. वैश्विक महामारी से बचाव के लिए लॉकडाउन-दो में छूट देने से औद्योगिक क्षेत्र में स्थित फैक्ट्रियों में प्रोडक्शन शुरू हो गया है। हालांकि कड़ी शर्तें की वजह से अभी केवल 15 से 20 प्रतिशत फैक्ट्री संचालकों ने ही स्वीकृति ली है।  82 संचालकों ने स्वीकृति के बाद उत्पादन शुरू कर दिया है। डीसी नरेश नरवाल ने बताया कि सरकार की हिदायतों के अनुसार एमएसएमई श्रेणी की औद्योगिक इकाइयों व वाणिज्यकर प्रतिष्ठानों को अनुमति दी जा रही है।

औद्योगिक इकाइयों में आवश्यक वस्तुओं का उत्पादन करने सहित अन्य उत्पाद शुरू किए गए हैं और उनकी आपूर्ति के लिए ट्रांसपोर्टेशन सुविधा भी अनुमति के आधार पर दी गई है। जिन इंडस्ट्री में उत्पादन शुरू हुआ है वहां सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही सेनिटाइनेशन किया जा रहा है। वहीं मास्क का उपयोग करते हुए कर्मचारियों को परिसर में ही रखने की व्यवस्था इकाई प्रबंधक की ओर से की गई है। कर्मियों को परिसर में ही सोशल डिस्टेंस बनाए रखते हुए ठहराव करने सहित भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। इन कार्यों की निगरानी के लिए अधिकारियों की भी ड्यूटी लगाई गई ताकि स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा उपायों का पूरी तरीके से पालन हो।

कंस्ट्रक्शन साइट पर ही रहेंगे श्रमिक: अनिल कुमार
जिला उद्योग केंद्र के उपनिदेशक अनिल कुमार ने बताया कि अब तक कुल 82 प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति दी है। जिनमें करीब 6800 कर्मचारियों ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ काम शुरू कर दिया है। वहीं जिले में दो निर्माण साइट पर 355 श्रमिकों की अनुमति के साथ ही कंस्ट्रक्शन वर्क भी शुरू किए हैं। इन निर्माण स्थलों पर ही श्रमिकों के रहने के लिए आवश्यक इंतजाम किए जाए। अनुमति प्राप्त इकाई में कार्यरत कर्मचारियों के ठहरने व भोजन की व्यवस्था परिसर में ही सुनिश्चित होगी।

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832