क्या चल रहा है?

पटना जिले की सीमाओं पर 78 और अंदर 71 चेकपोस्ट बने, 1500 अतिरिक्त जवान तैनात

  • घर से निकलने वाले हर व्यक्ति से होगी पूछताछ, सिर्फ फाइन नहीं अब दर्ज होगी एफआईआर

पटना. लॉकडाउन को लेकर परिवहन विभाग के नए आदेश के आलोक में पटना पुलिस ने भी अपनी तैयारियां कर ली हैं। पटना पुलिस अब और सख्ती के साथ पेश आएगी। इसके लिए जिले की सीमाओं पर 78 चेकपोस्ट बनाए गए हैं। वहीं पटना जिले के अंदर ऐसे 71 चेकपोस्ट का निर्माण और पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए विभिन्न थानों के अलावा 1500 से अधिक एएसआई और सिपाहियों की भी ड्युटी लगाई गई है।
राजधानी के लिए 51 ट्रैफिक पोस्ट, 21 क्यूआरटी की टीम : लॉकडाउन को लेकर मंगलवार से पुलिस और सख्ती बरतेगी। किसी भी परिस्थिति में तफरी करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। बेवजह घर से निकले वालों से अब सिर्फ जुर्माना ही नहीं वसूला जाएगा। ऐसे लोगों पर पुलिस एफआईआर भी करेगी। आरोप गंभीर हुए तो लॉकडाउन तोड़ने वालों को एफआईआर कर जेल भी भेजा जाएगा। इसकी निगरानी और कार्रवाई के लिए राजधानी में 51 ट्रैफिक पोस्ट बनाए गए हैं। 21 क्यूआरटी की टीम सिर्फ लॉकडाउन के लिए एक्टिव किया गया है।
376 वाहनों से वसूला गया 4.48 लाख का जुर्माना
लॉकडाउन को लेकर राजधानी में सघन वाहन जांच लगातार जारी है। सोमवार को 376 वाहनों से 4.48 लाख जुर्माना वसूला गया। वहीं 64 वाहनों को 1.18 लाख का चलान काटा गया। इस दौरान पुलिस ने 130 वाहन भी जब्त किया। वाहन जांच का अभियान देर शाम तक चलता रहा। इस दौरान डाक बंगला चौराहा, आयकर गोलंबर, आर ब्लॉक, बेली रोड, करगिल चौक सहित अन्य इलाकों में सख्त कार्रवाई की गई।

लॉकडाउन तोड़ने वाले काे नहीं छाेड़ा ताे एएसआई काे पीटा

लॉकडाउन तोड़ने वाले को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाने पहुंचे कस्टम विभाग के इंस्पेक्टर को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। इंस्पेक्टर अखिलेश कुमार पर आरोप है कि वे अपने एक परिचित को पुलिस से छुड़ाने पहुंचे थे। वे परिचित को पुलिसिया कार्रवाई से बचाना चाहते थे। जब उनकी दाल नहीं गली, तब वे कुर्जी चेकपोस्ट पर तैनात एएसआई रामानंद पटेल से हाथापाई कर बैठे। एएसआई घायल हो गया। एएसआई के बयान पर पाटलिपुत्र थाना में मामला दर्ज कर लिया गया। कस्टम के अधिकारी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। ट्रैफिक एसपी डी अमरकेश ने बताया कि कस्टम अधिकारी ने तैनात एएसआई के साथ मारपीट की जिस कारण उसका इलाज अभी भी चल रहा है। उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

तफरीह करने निकला था
कस्टम अधिकारी के परिचित सचिन को सोमवार की सुबह कुर्जी मोड़ के पास पुलिस ने पकड़ लिया। वह बाइक से निकला था। उसके पास न ड्राइविंग लाइसेंस था और न ही वह हेलमेट पहने था। उसने पुलिस से कहा कि वह दवाई लेने जा रहे हैं लेकिन इस बात भी झूठ निकली। उसने ही फोन कर कस्टम अधिकारी अखिलेश को बुलाया। अखिलेश ने तो पहले एएसआई को चलान काटने से मना किया और अपना परिचय दिया। जब एएसआई तैयार नहीं हुआ तब अखिलेश एएसआई से भिड़ गया और हाथापाई होने लगी। इसके बाद मौके पर पाटलीपुत्र थानेदार एसके शाही पहुंचे और उसे गिरफ्तार कर थाना ले आया गया। पूरे मामले की जांच ट्रैफिक एसपी ने खुद की।

लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर 72 एफआईआर दर्ज

लाॅकडाउन में सोमवार को बेवजह घरों से निकले 47 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस दाैरान विभिन्न जिलों में ‘रिकाॅर्ड’ 72 एफआईआर दर्ज करने के साथ 2652 वाहन जब्त किए गए। बीते 24 मार्च से लागू लाॅक डाउन के दाैरान अब तक किसी एक दिन में इतनी संख्या में केस दर्ज या वाहनों की जब्ती नहीं हुई थी। मुख्यालय की हिदायत के बाद सड़कों पर पुलिसिया सख्ती के कारण हर स्तर पर कार्रवाई की रफ्तार बढ़ी है। एडीजी (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार के मुताबिक बीते 20 दिनों में लाॅक डाउन उल्लंघन के आरोप में कुल 980 मामले दर्ज करने के अलावा 753 लोगों की गिरफ्तारी, 18 हजार 470 वाहनों की जब्ती व 4.14 करोड़ रुपए जुर्माना वसूले गए हैं।

Source :www.bhaskar.com

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832