क्या चल रहा है?

नोएडा प्रशासन ने बढ़ाई सख्ती, 30 अप्रैल तक धारा 144 लागू; संक्रमित मरीजों की संख्या 58 पहुंची

  • उत्तर प्रदेश में नोएडा कोरोनाजोन बनकर उभर रहा है, अब तक यूपी में जितने भी केस आए हैं उनमें नोएडा में सबसे अधिक है
  • पुलिस ने कहा- 9 बजे जब लाइट बंद होगी तो पुलिस और भी सतर्क रहेगी, नाकेबंदी की जाएगी ताकि कोई समूह में न निकलने पाएं

नोएडा. उत्तर प्रदेश का गौतमबुद्ध नगर भी इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुआ है। ऐसे में यहां प्रशासन की ओर से 30 अप्रैल तक के लिए धारा 144 लागू कर दी गई है। दरअसल, शासन-प्रशासन हर संभव कोशिश में जुटा है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें ताकि किसी भी अवस्था में यह संक्रमण आगे न बढ़ सके। हालांकि, तमाम कोशिशों के बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं है।

गौतमबुद्ध नगर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 58 तक चुकी है। ऐसे में हर संभव कोशिश की जा रही है कि इन मामलों पर किसी तरह से रोक लगे। वहीं, बात की जाए पूरे यूपी से संक्रमण के मामलों की, तो प्रदेश का आंकड़ा 250 के पार जा चुका है। इन्हीं स्थितियों को देखते हुए पूरे देश में इन दिनों लॉकडाउन लागू है।

मोदी की अपील के बीच लॉकडाउन को लेकर सतर्क पुलिस

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर लोग रविवार रात 9 बजे अपने घरों के दरवाजे पर और बालकनी में दीपक, मोमबत्ती, टॉर्च और मोबाइल की लाइट जलाकर रोशनी करेंगे। इस कार्यक्रम में लॉकडाउन पूरी तरह से लागू रहे इसके लिए नोएडा पुलिस ने भी तैयारी कर ली है।

डीसीपी नोएडा संकल्प शर्मा ने कहा कि हमारी जनता से अपील है कि वह घरों में ही रहें। 9 बजे जब लाइट बंद होगी तो पुलिस और भी सतर्क रहेगी। सेक्टर्स और एरिया में नाके लगाए जाएंगे ताकि कोई समूह में न निकलने पाए।

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832