क्या चल रहा है?

नेपाल की मस्जिद में छिपे थे 24 भारतीय जमाती, कई लोगों में दिखे कोरोना के लक्षण

  • नेपाल पुलिस ने 24 जमातियों को नियंत्रण में लिया
  • मस्जिद में छिपकर रह रहे थे ये जमाती

भारत में जालिम अंसारी को लेकर खबर सामने आने के बाद नेपाल पुलिस एक्शन में आ गई है. नेपाल के पर्सा जिला प्रशासन और नेपाल पुलिस की टीम ने एक मस्जिद में छिपकर रह रहे 24 भारतीय जमातियों को नियंत्रण में लेकर उनका स्वैब टेस्ट कराया है, जिसमें से तीन लोगों में कोरोना का लक्षण देखा गया है.

वहीं स्थानीय लैब में इनका कोरोना वायरस का टेस्ट कराया गया, जहां कोरोना वायरस की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दूसरे टेस्ट के लिए सैम्पल्स को काठमांडू भेजा गया है. अगर वहां भी रिजल्ट पॉजिटिव आया तो इनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की आधिकारिक घोषणा की जाएगी.

दिल्ली के निजामुद्दीन के मरकज से लौटे ये सभी भारतीय सीमा से सटे नेपाल की मस्जिद में छिपे हुए थे और मौका निकालकर भारत में प्रवेश की योजना बना रहे थे. ये सभी जालिम मियां के कहने पर उस मस्जिद में छिपे हुए थे और उनके भारत में प्रवेश करने का ठेका जालिम मियां ने ही लिया था.

मस्जिद से नियंत्रण में लिए गए 24 लोगों में से 3 में कोरोना की आशंका होने के कारण उन तीनों को आइसोलेशन में रखा गया है, जबकि बाकी लोगों को क्वारनटीन में रखा गया है. इस घटना के बाद से पूरे बीरगंज शहर में लॉकडाउन को और अधिक कड़ा कर दिया गया है. यहां पर अब एक वार्ड से दूसरे वार्ड में जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

भारत में खबर सामने आने के बाद नेपाल में कई मस्जिदों और मदरसों में छापेमारी की गई थी. इसी बीच जिला प्रशासन और बीरगंज महानगरपालिका ने नेपाली सेना को शहर और गांवों के एक-एक घर में तलाशी लेने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. इसका उद्देश्य भारत सहित अन्य किसी भी तीसरे देश से आए जमाती को ढूंढ निकालना है. हालांकि जालिम पर पुलिस ने अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की है. हालांकि उसे उसके घर में नजरबंद कर दिया गया है.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832