क्या चल रहा है?

दिल्ली पुलिस से भिड़ गई विदेशी महिला, लॉकडाउन मानने से किया इनकार

  • वसंत विहार में साइकिलिंग करने निकली थी महिला
  • ID कार्ड भी पुलिस को दिखाने से किया इनकार
  • पुलिस संबंधित एंबेसी में दर्ज कराएगी शिकायत

कोरोना वायरस की त्रासदी से देश गुजर रहा है. देश में कोरोना संक्रमण के मामले अब 7529 से भी ज्यादा हो गए हैं. देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1069 तक पहुंच गई है. जहां देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की गई है, वहीं दिल्ली के वसंत विहार में रह रही एक विदेशी महिला राजनयिक ने पुलिस के सामने लॉकडाउन मानने से ही इनकार कर दिया.

विदेशी महिला उरुग्वे की राजनयिक है. महिला जब साइकिलिंग करने के लिए बाहर निकली तो पुलिस ने रोक लिया. महिला लॉकडाउन का पालन नहीं कर रही थी. उसने मास्क भी नहीं लगाया था. पुलिस ने जब रोका तो महिला ने पुलिसकर्मियों से कहा कि आप मुझे कुछ नहीं कह सकते. मुझे मास्क पहनने के लिए भी नहीं कह सकते.

विदेश मंत्रालय नियमित आधार पर दूतावास को लॉकडाउन और देश की स्थितियों के बारे में निर्देश देता रहा है. विदेश मंत्रालय ने राजनयिकों से अपने आवासों में ही रहने को कहा है लेकिन विदेशी डिप्लोमेट ने लॉकडाउन का उल्लंघन किया है.

पुलिस ने महिला से जब परिचय पत्र दिखाने को कहा तो वह भी उसने दिखाने से इनकार कर दिया. पुलिस का कहना है कि महिला किस दूतावास से जुड़ी है, इसका पता लगाएंगे और फिर शिकायत दर्ज कराई जाएगी. दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी ने आज तक से बातचीत में कहा कि अभी विदेश मंत्रालय की प्रतिक्रिया का इंतजार किया जा रहा है.

दरअसल दिल्ली में संक्रमण तेजी से फैलने की वजह से कई इलाकों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है. जहां सील नहीं किया गया है, उन इलाकों में भी प्रतिबंध लगाए गए हैं. राज्य और केंद्र सरकार की कोशिशों के बाद भी दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है.

लॉकडाउन नहीं लगता तो भयावह हो जाते हालात, देश में 8.2 लाख होते कोरोना संक्रमित

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में सामने आए कोरोना के 166 केस, उनमें 128 मरीज तबलीगी जमात से जुड़े हैं. नए मामलों को मिलाकर दिल्ली में कोरोना के कुल मामले 1069 हो गए हैं जिसमें 712 तबलीगी जमात से जुड़े लोग हैं. दिल्ली में पिछले चौबीस घंटों में कोरोना के 5 मरीजों की मौत हुई है. राज्य में अब तक 19 लोग कोरोना की वजह से मर चुके हैं. मौजूदा हालात के मुताबिक अभी संक्रमण के मामले और बढ़ सकते हैं.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832