क्या चल रहा है?

दिल्ली जल बोर्ड उपाध्यक्ष का दावा, यमुना के पानी की गुणवत्ता सुधरी

  • लॉकडाउन में यमुना के पानी की गुणवत्ता में सुधार
  • दिल्ली में उद्योग बंद, यमुना में नहीं जा रहा कचरा

यमुना नदी के पानी की गुणवत्ता में सुधार की खबरों के बीच, दिल्ली जल बोर्ड ने भी इसकी पुष्टि की है. दिल्ली सरकार में जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा कि जल बोर्ड द्वारा परीक्षण में यमुना नदी की पानी की गुणवत्ता में सुधार पाया गया है.

दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा, “दिल्ली में कई स्थानों पर यमुना नदी के पानी का परीक्षण किया गया. परीक्षण के बाद हमें पता चला कि दिल्ली में यमुना नदी के पानी की गुणवत्ता में सुधार हुआ है. इसकी विस्तृत रिपोर्ट अभी तक सामने नहीं आई है, लेकिन अब तक जो कारक सामने आए हैं, वे कहते हैं कि चूंकि दिल्ली में उद्योग बंद हैं, औद्योगिक कचरा यमुना में नहीं जा रहा है. उधर, हरियाणा से आने वाला पानी भी साफ है और पानी में अमोनिया की मात्रा में कमी आई है.”

हाल ही में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा नियुक्त यमुना मॉनिटरिंग कमेटी ने भी केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति से कहा है कि वह यमुना के जल गुणवत्ता पर लॉकडाउन के प्रभाव का पता लगाए और एक सप्ताह के भीतर एक रिपोर्ट सौंपे.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न लिखने की शर्त पर बताया, “हमने पानी के नमूने एकत्र किए हैं. एक सप्ताह में रिपोर्ट हमें सौंपी जाएगी. तभी हम जान पाएंगे कि यमुना नदी का पानी वास्तव में बेहतर हुआ है या नहीं.”

ये भी पढ़ें- बढ़ेगा लॉकडाउन! स्कूल-कॉलेज, धार्मिक कार्यक्रमों पर पूरी तरह रोक का सुझाव

सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिसमें दावा किया जा रहा है कि दिल्ली में यमुना नदी के पानी की गुणवत्ता में सुधार आ गया है. हालांकि, वास्तव में यमुना के पानी में सुधार हुआ है या नहीं, यह जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल पाएगा

सबसे नया

To Top
//partouba.com/afu.php?zoneid=3256832