क्या चल रहा है?

तेल की गिरती कीमतों को रोकने की पहल, उत्पादन में होगी 20 मिलियन बैरल की कटौती

  • 20 मिलियन बैरल तेल की कटौती करेंगे ओपेक प्लस देश
  • कच्चे तेल की गिरती कीमतों को स्थिर करने की कोशिश

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि दुनिया के तेल उत्पादक देशों का समूह ओपेक प्लस प्रतिदिन उत्पादन में 20 मिलियन बैरल की कटौती करने की योजना पर काम कर रहा है. तेल की गिरती कीमतों और इसकी वजह से पड़ते आर्थिक असर से परेशान अमेरिका के लिए ये बेहद राहत की खबर है.

तेल उत्पादन में बड़ी कटौती

समाचार एजेंसी एएफपी ने एक ट्वीट में बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि ओपेक प्लस तेल उत्पादन में 20 मिलियन बैरल की प्रतिदिन कटौती की योजना पर काम कर रहा है.

पुतिन और प्रिंस सलमान को ट्रंप ने कहा-थैंक्स

बता दें कि तेल उत्पादन में कटौती की घोषणा के बाद अमेरिकी शेयर बाजार में तेजी देखी गई. इस ऐतिहासिक समझौते के लिए डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन और सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सौद का शुक्रिया अदा किया. ट्रंप ने इन दोनों नेताओं से फोन पर बातचीत की.

कोरोना की वजह से तेल की मांग में कमी

बहरहाल, कोरोना वायरस की वजह से दुनिया के कई देश लॉकडाउन में हैं. इसकी वजह से तेल की खपत बेहद कम हो गई है. अमेरिका में एनर्जी मार्केट गोते लगा रहा था, हजारों नौकरियों पर संकट पैदा हो गया था. इसके बाद तेल के उप्तादन में कटौती करने पर सहमति हुई है, ताकि वैश्विक ऊर्जा बाजार में मांग और पूर्ति के बीच संतुलन बरकरार रहे.

बता दें रूस और सऊदी अरब के विवाद तथा कोरोना वायरस महामारी के कारण गिरी मांग से कच्चे तेल की वैश्विक कीमतें 30 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गयी हैं.

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा कि ट्रंप ने रूस और सऊदी अरब द्वारा वैश्विक ऊर्जा और वित्तीय बाजार में स्थिरता लाने के लिए तेल उत्पादन कम करने की उनकी प्रतिबद्धता का स्वागत किया. ट्रंप ने समझौते की सराहना करते हुए इसे सभी के लिए बेहतरीन समझौता बताया.

अमेरिका के लिए राहत भरी खबर

इस बाबत ट्रंप ने ट्वीट किया, “ओपेक प्लस के साथ एक बड़ा समझौता हुआ. अमेरिका में ऊर्जा के क्षेत्र में इससे हजारों नौकरियां बचेंगी. मैं इसके लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस सलमान का शुक्रिया करना चाहता हूं. ओवल कार्यालय से अभी उनसे फोन पर बात की. सभी के लिए यह एक बेहतरीन समझौता है.”

एक अन्य ट्वीट में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि ओपेक प्लस देश एक दिन में 20 मिलियन बैरल तेल उत्पादन में कमी करने पर राजी हुए हैं, न कि 10 मिलियन बैरल जैसा कि कई जगह मीडिया में बताया जा रहा है. ट्रंप ने कहा कि ऊर्जा बाजार में फिर से मजबूती आएगी.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832