क्या चल रहा है?

तबलीगी जमात के लोगों से आतंकियों की तरह आएं पेश: वीके सिंह

  • गाजियाबाद में तेजी से बढ़े हैं कोरोना के मामले
  • तबलीगी जमात की वजह से कोरोना के केस बढ़े

राजधानी दिल्ली के साथ गाजियाबाद में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. केंद्रीय मंत्री और गाजियाबाद से सांसद जनरल वीके सिंह ने आजतक से खास बातचीत में कहा गाजियाबाद की हालत तब तक ठीक थी जब तक तबलीगी जमात के लोग वहां नहीं पहुंचे थे. ये एक जाहिल मानसिकता है जिससे निकलने की जरूरत है. हम इन्हें बचाकर संक्रमण फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. यह आतंकवाद की घटना है और इनसे आतंकवादियों की तरह ही निपटना चाहिए.

जनरल वीके सिंह ने कहा कि जो अपने आपको तबलीगी बोलते हैं और इस्लाम की अच्छाइयों का प्रचार करते हैं. अगर वे डॉक्टर्स और नर्सेस के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं तो इस्लाम के मानने वाले नहीं हैं. इस्लाम में कुछ ऐसा नहीं है कि आप ऐसी जाहिल चीजें करें. इस तरह के कृत्य करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए. योगी जी ने इनके खिलाफ रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) लगाने की बात कही है. जब तक हम सख्त कार्रवाई नहीं करेंगे, इन्हें सबक नहीं मिलेगा.

बता दें, गाजियाबाद में तबलीगी जमात के 23 लोग संक्रमित थे. ये लोग जिन इलाकों में गए उन्हें चिन्हित किया गया और वहां पर सख्ती से चीजें लागू की गईं. जहां पर संक्रमण का ज्यादा खतरा है वहां पर आवाजाही को सख्ती से रोका गया है. यह लोगों के हित में है कि वे घर के अंदर रहें. हम सब को ऐसी कोशिश करनी चाहिए, जिससे कि संक्रमण ना फैले. कोरोना वायरस संक्रमितों का ग्राफ ऊपर जा रहा है. हम सब लोगों को इसे रोकने में सक्रिय योगदान देना चाहिए.

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है. अगर आपको लगता है कि आपको किसी सामान की जरूरत है तो आप हेल्पलाइन पर फोन करें, मुझे फोन कर सकते हैं. तबलीगी जमात की वजह से मामले फैल रहे हैं. मैं असम का प्रभारी हूं लेकिन तबलीगी जमात की वजह से असम में भी मामले फैले. वहां पर पहले एक भी केस नहीं था. जनता होने के नाते हमें सरकार का और सहयोग करना चाहिए. हमें अगर कुछ दिन और घर पर रहकर काम करने का आदेश मिलता है तो उसे मानना चाहिए.’

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832