क्या चल रहा है?

टीबी का मरीज निकला कोरोना संक्रमित, वार्ड सील; संपर्क में आने वाले डॉक्टर, नर्स और स्टाफ क्वारेंटाइन

पटना. आईजीआईएमएस में सीवान के 30 साल के टीबी मरीज की जांच हुई तो वह कोरोना पॉजिटिव निकला। गुरुवार की देर रात उसकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर एमडीआर टीबी वार्ड से उसे बाहर निकाल एनएमसीएच भेज दिया गया। वार्ड को रात में ही दो बार सफाई और सेनेटाइज किया गया और वार्ड को सील कर दिया गया। मरीज के संपर्क में आने वाले सभी डॉक्टर, नर्सिंग स्टाफ, पारा मेडिकल स्टाफ और सेनेटरी स्टाफ समेत करीब 25 लोगों को क्वारेंटाइन कर दिया गया है। इनकी कोरोना की जांच चार-पांच दिन बाद कराई जाएगी। संस्थान में यह पहला मामला है जब भर्ती मरीज कोरोना पॉजिटिव निकल गया।

वार्ड में पहले से नहीं था कोई मरीज
मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. मनीष मंडल के मुताबिक 22 अप्रैल की शाम सात बजे के बाद सीवान का एमडीआर टीबी (मल्टीपल ड्रग रेजिस्टेंस टीबी) का यह मरीज अस्पताल में भर्ती हुआ। जांच में पता चला कि यह मरीज एमडीआर टीबी का है तो इसे उसी वार्ड में भेज दिया गया। रात में आने वाले मरीज का सैंपल दूसरे दिन कलेक्ट किया जाता है और जांच के लिए सैंपल भेजा जाता है। संस्थान की मानें तो 20 बेड के एमडीआर वार्ड में पहले से कोई मरीज नहीं था। सीवान का यह मरीज अकेला था। 23 अप्रैल की सुबह इसका सैंपल कोरोना जांच के लिए लिया गया।

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832