क्या चल रहा है?

चुरू में पुलिस ने फेसबुक पर सेलिब्रिटीज का लाइव सेशन शुरू किया, 40 हजार लोग घरों के भीतर रहने लगे

  • आईपीएस एसोसिएशन ने एसपी के आइडिया की तारीफ की, कई राज्यों के कलेक्टर व एसपी इसके लिए मांग रहे
  • लोगों को घर में रोकने में कामयाबी मिली तो चुरू पुलिस सेलिब्रिटी के सेशन को आगे बढ़ाने पर विचार कर रही

सीकर. लॉकडाउन के कारण दिनभर घरों में कैद रहने के बाद जैसे ही शाम के 5 बजते हैं तो लोग दूध और किराने के बहाने निकलना शुरू कर देते हैं। ऐसे में राजस्थान के चुरू में पुलिस ने नया आइडिया निकाला है। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने शाम 5 से 7 बजे के बीच फेसबुक पर फिल्म, खेल, डांस, संगीत, योग, थिएटर से जुड़ी हस्तियों और मोटिवेशनल स्पीकर के लाइव सेशन शुरू कर दिए। अब रोजाना 2 हजार से ज्यादा लोग इन सेलिब्रिटीज से सवाल पूछते हैं। यही नहीं, हर शाम 30 से 40 हजार लोग बाहर निकलने की बजाय पुलिस के फेसबुक पेज से जुड़ने लगे हैं।

आईपीएस एसोसिएशन ने भी एसपी तेजस्वनी गौतम के आइडिया की तारीफ की है। कई राज्यों के कलेक्टर और एसपी से इसे अपने जिलों में लागू करने के लिए गौतम से सहयोग मांग रहे हैं। गौतम कहते हैं कि लॉकडाउन 3 मई तक है। इसलिए तय किया है कि इस सेशन को आगे तक बढ़ाए जाए। इसलिए दीपिका पादुकोण, पंजाबी सिंगर गुरु रांधावा, पंकज त्रिपाठी, महिमा चौधरी, लारा दत्ता सहित 16 मशहूर लोगों से बात हो चुकी है। सिंगर अनामिका की भी मंजूरी मिल गई है। गुरु रंधावा के सेशन के लिए संपर्क में हैं ताकि पंजाबी कम्युनिटी के लोग जुड़ सकें।

यही क्यों?

हर दिन बाहरन निकलने पर 100 से 150 लोगों को समझाना पड़ता था। लोग सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव रहते हैं। यही सोचकर सेशन शुरू किए।

कैसे किया?

तेजस्वनी दिल्ली की ही हैं और कई सालों तक थिएटर से जुड़ी रहीं। उनके कई दोस्त भी एक्सपर्ट्स के संपर्क में हैं। सबकी मदद से वे इन्हें जोड़ पाईं।

कौन शामिल?

पद्मश्री देवेंद्र झाझड़िया, मैनेजमेंट गुरु एन रघुरामन, थिएटर एक्सपर्ट अतुल सत्य कौशिक, योग एक्सपर्ट डॉ. कृष्णकांत पाठक जैसी हस्तियां आईं।  क्यों सफल? लाइव सेशन में प्रसिद्ध हस्तियां कोरोना से लड़ने के टिप्स देती हैं। जैसे-ज्यादा पढ़ें, खुद को फिट रखें, ऑब्जर्वेशन सीखें, अच्छे श्रोता बनें आदि।

सबसे बड़ी सीख ये है…

पद्मश्री पैरालिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट देवेंद्र झाझड़िया ने सेशन में बताया कि उन्होंने ओलिंपिक के लिए 12 साल का इंतजार किया। क्या लोग लॉकडाउन में कुछ दिन घरों में नहीं रह सकते? कुछ नया सीखने के लिए इससे बेहतर मौका शायद कभी न मिले।

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832