क्या चल रहा है?

चिदंबरम ने पूछा- बिना पैसे कैसे जीवनयापन करें गरीब? केंद्र ने क्यों नहीं की मदद

  • कोरोना मरीजों की संख्या हुई 9152
  • अब तक 308 लोगों ने गंवाई जान

कांग्रेस ने एक बार फिर लॉकडाउन को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने पूछा कि क्या सरकार यह बताएगी कि कैसे बिना नगदी गरीब लोग भोजन और दवाइयां खरीद सकें, ताकि यह लोग लॉकडाउन में जीवन यापन करें. उन्होंने कहा कि सीमित संसाधनों के साथ राज्यों ने गरीबों की थोड़ी मदद की है.

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए पी. चिदंबरम ने कहा, ‘केंद्र ने आजीविका सहायता के लिए राज्यों को पैसा नहीं दिया. यहां तक की केंद्र ने प्रत्येक गरीब परिवार को सीधे धन हस्तांतरित (डायरेक्ट मनी ट्रांसफर) नहीं किया. हमें इस रवैये की कड़ी शब्दों में निंदा करनी चाहिए.’

Economists have advised that the Centre should borrow more and also monetise part of the deficit. This is sound advice.@narendramodi @PMOIndia @nsitharaman @FinMinIndia

— P. Chidambaram (@PChidambaram_IN) April 13, 2020

पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सलाह दी कि केंद्र अपने 2020-21 के 30 लाख करोड़ से अधिक खर्च बजट में से 65,000 करोड़ रुपये तक आसानी से निकाल सकता. यह व्यय बजट का 2.2 प्रतिशत होगा. अर्थशास्त्रियों ने सलाह दी है कि केंद्र को अधिक उधार लेना चाहिए. यह अच्छी सलाह है.

इस बीच कोरोना की रफ्तार और खतरनाक होती जा रही है. देश में कोरोना के अब तक 9 हजार 152 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें एक्टिव केस की तादाद 7 हजार 987 हो गई है. इसके साथ ही कोरोना से अब तक 308 लोगों की मौत हुई है, जबकि 857 इलाज के बाद ठीक हुए हैं.

कोरोना का सबसे ज्यादा असर दिल्ली- मुंबई- इंदौर और जयपुर में पड़ा है. इन सबके बीच अब लॉकडाउन-2 की आहट सुनाई देने लगी है. संकेत है कि सरकार की तरफ से आज या कल इस बारे में कोई ऐलान किया जा सकता है. लॉकडाउन को बढ़ाकर 30 अप्रैल तक किया जा सकता है.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832