काल चक्र

गाजियाबाद में आइसोलेशन केंद्रों की सुरक्षा कड़ी, नर्सों के साथ हुई थी बदसलूकी

  • नर्सों से बदसलूकी के बाद आइसोलेनश केंद्रों की सुरक्षा बढ़ाई
  • गाजियाबाद में अब प्रत्येक क्वारनटीन केंद्र पर सीसीटीवी लगेंगे

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में नर्सों के साथ हुई अभद्रता के बाद क्वारनटीन और आइसोलेशन केंद्रों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. नर्सों से बदसलूकी की शिकायत के बाद गाजियाबाद पुलिस ने ये कदम उठाया है. गाजियाबाद में अब सभी क्वारनटीन और आइसोलेशन केंद्रों की सुरक्षा में किया गया इजाफा गया है.

पुलिस ने बताया कि अब प्रत्येक आइसोलेनश केंद्र में एक प्रभारी निरीक्षक नियुक्त किया जाएगा. डीएसपी नोडल अधिकारी होंगे जबकि एडिशनल एसपी पर्यवेक्षण अधिकारी बनाएं जाएंगे.

प्रत्येक केंद्र पर एक इंस्पेक्टर, दो दरोगा, दो हेड कांस्टेबल और चार कांस्टेबल नियुक्त किए गए किए गए हैं. प्रत्येक केंद्र पर सीसीटीवी लगेंगे.

इससे पहले कहा जा रहा था कि गाजियाबाद में नर्सों के साथ अभद्रता करने वाले तबलीगी जमात के लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई की जा सकती है. 6 जमातियों पर एफआईआर दर्ज की गई थी और अब इन पर एनएसए की कार्रवाई की जा सकती है.

असल में, सीएम योगी आदित्यनाथ ने नर्सों की अभद्रता के बाद बड़ा फैसला लिया है. अब किसी भी स्वास्थ्यकर्मी के साथ अभद्रता करने वालों पर एनएसए की कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ तबलीगी जमात के लोगों की चिकित्सा और सुरक्षा में महिला स्वास्थ्यकर्मी और महिला पुलिसकर्मियों को नहीं लगाने का फैसला किया गया है. अब केवल पुरुष कर्मचारी ही तैनात रहेंगे.

CM योगी बोले- छोड़ेंगे नहीं

गाजियाबाद घटना की निंदा करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये ना कानून को मानेंगे, ना व्यवस्था को मानेंगे, ये मानवता के दुश्मन हैं, जो इन्होंने महिला स्वास्थ्यकर्मियों के साथ किया है, वह जघन्य अपराध है, इन पर रासुका (एनएसए) लगाया जा रहा है, हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं.

क्या है असली मामला

दरअसल, गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल की नर्सों ने मुख्य चिकित्साधिकारी को लिखित शिकायत देकर जमातियों पर अश्लील हरकत करने, गंदे गाने सुनने और परेशान करने का आरोप लगाया था, जिसके बाद शहर के कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई गई. जब ये मामला गाजियाबाद डीएम तक पहुंचा तो सभी जामातियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश जारी कर दिया गया.

उधर शिकायत मिलने के बाद पुलिस की टीम एमएमजी अस्पताल पहुंची और सभी 6 जमातियों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया. इससे पहले इन जमातियों पर आइसोलेशन सेंटर में जगह-जगह थूकने और डॉक्टरों और ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों के साथ गाली गलौज करने का भी आरोप लग चुका है.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832