क्या चल रहा है?

गांव की सुरक्षा के लिए महिलाएं दे रहीं पहरा, डीएम ने सोशल डिस्टेंसिंग कराकर वितरित कराया लंच पैकेट

झांसी. कोरोनावायरस (कोविड-19) को मात देने के लिए जारी 21 दिनों का लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म होने वाला है। राहत की बात है कि, झांसी मंडल में अभी तक कोई भी कोरोनावायरस से संक्रमित नहीं हुआ है। हालांकि, यहां आमजनों के साथ जिला प्रशासन के द्वारा बचाव के सभी उपाय अपनाए जा रहे हैं। यहां के लहर गिर्द गांव में लॉकडाउन के पालन कराने की जिम्मेदारी महिलाओं ने अपने कंधों पर ले रखी है। डंडा लेकर महिलाएं पहरेदारी कर रही हैं। उन्होंने बाहरी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक लगा दी। वहीं, खाना बांटने से पहले डीएम ने खुद लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग में बैठाया।

महिलाओं ने बनाए पांच समूह
सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के लहर गिर्द गांव में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। इसके लिए महिलाओं ने 5 समूह बनाए हैं। ये अपने हाथों में डंडा लेकर 3-3 घंटे की पहरेदारी करती हैं। सिर्फ गांव वाले ही प्रवेश कर पाते हैं। बाकी लोगों को बाहर का रास्ता दिखा देती हैं।

डीएम ने सामाजिक दूरी बनाते हुए राहत सामग्री का किया वितरण।डीएम ने सोशल डिस्टेंसिंग करवाकर बंटवाया लंच पैकेट

वहीं, जिला प्रशासन के पास लगातार शिकायतें जा रही थी कि खाना बांटने को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है। इसके बाद डीएम आंद्रे वामसी ने खुद अपने हाथ में कमान संभाली और लोगों को खाना बांटने आईटीआई स्थित झुग्गी झोपड़ी पहुंचे। उन्होंने बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइन लगा कर बैठाया। इसके बाद सरकारी कर्मचारियों और कोरोना वॉरियर्स ने बिस्किट और खाने के पैकेट दिए।

लंच पैकेट पाकर खिले बच्चों के चेहरे।

झांसी में अब तक 164 जांच, सभी निगेटिव
शासन ने झांसी मेडिकल कॉलेज में कोरोनावायरय की जांच के लिए लैब स्थापित है। यहां बीते दो दिनों के भीतर 164 सैंपलों की जांच की है। इनमें ललितपुर के 55, महोबा के 43, जालौन के 34 व झांसी के 32 सैंपल शामिल थे। राहत की बात है कि, यहां एक भी केस पॉजिटिव नहीं मिला है।

Source :www.bhaskar.com

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832