क्या चल रहा है?

कोरोना वायरस के डर से अस्पताल में ही की आत्महत्या, जांच रिपोर्ट आई नेगेटिव

  • देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामले
  • कोरोना संदिग्ध ने आइसोलेशन वार्ड में की आत्महत्या

देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है. हर रोज कोरोना वायरस से संक्रमित नए मरीज सामने आ रहे हैं. देश में अब तक 7000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं. इस बीच तमिलनाडु से हैरान करने वाला मामला सामने आया है.

दरअसल, अरियालुर में एक कोरोना संदिग्ध ने आत्महत्या कर ली. कोरोना वायरस के एक संदिग्ध को अरियालुर के सरकारी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था. जहां शख्स ने आत्महत्या कर ली. 60 वर्षीय शख्स हाल ही में केरल से लौटा था.

केरल से लौटने के बाद उसे बुखार और खांसी के लक्षण दिखाई देने लगे, जिसके बाद 6 अप्रैल को मरीज को अरियालूर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. आइसोलेशन वार्ड में भर्ती शख्स के 7 अप्रैल को कोविड-19 के लिए नमूने लिए गए.

शख्स के टेस्ट के नतीजों का इंतजार किया जा रहा था. हालांकि इससे पहले ही शख्स तनाव में आ गया और अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में ही आत्महत्या कर ली. जिसके बाद पुलिस को आत्महत्या की जानकारी दी गई.

वहीं जिले के अधिकारियों का कहना है कि उसके कोरोना वायरस की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है. हालांकि पुलिस अधिकारी अब इस मामले की जांच कर रहे हैं कि आत्महत्या के पीछे कहीं कोई और कारण तो नहीं था.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//stawhoph.com/afu.php?zoneid=3256832