क्या चल रहा है?

कोरोना वायरस के चलते हैदराबाद में सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर लगी रोक

  • तेलंगाना में कोरोना वायरस से पीड़ितों की संख्या हुई 471
  • सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के थूकने पर लगाई गई रोक

चीन के वुहान शहर से सामने आए कोरोना वायरस ने इन दिनों पूरी दुनिया में अपना आतंक फैला रखा है. कोरोना वायरस ने भारत में भी काफी कहर बरपा रखा है. तेलंगाना भी इसके प्रकोप से नहीं बचा. गुरुवार को तेलंगाना में कोरोना वायरस के 18 नए मामले सामने आए. इसके अलावा कोरोना पीड़ित एक मरीज की मौत भी हो गई थी. इसी को ध्यान में रखते हुए हैदराबाद में सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर रोक लगा दी गई है.

हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर आईपीएस अंजनी कुमार ने इस बीच ट्वीट कर कहा, “संक्रामक बीमारी कोविड- 19 के मद्देनजर सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. यदि कोई भी व्यक्ति इस आदेश का उल्लंघन करता है तो वह U/S 188 आईपीसी और 269 आईपीसी (संज्ञेय अपराध) की सजा के लिए उत्तरदायी है. इस अपराध में फोटोग्राफी, वीडियो ग्राफी, सीसीटीवी फुटेज या चश्मदीद गवाह सबूत होंगे.”

तेलंगाना राज्य में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केसों की संख्या 471 तक पहुंच चुकी है. राज्य में अब तक 12 लोग इस जानलेवा वायरस की वजह से अपनी जिंदगी गंवा चुके हैं. राज्य में फिलहाल कोरोना के 414 मरीज हैं जिनका इलाज चल रहा है.

तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री ने तबलीगी जमात पर फोड़ा ठीकरा

तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री ई राजेंद्र ने कहा कि अगर तबलीगी जमात नहीं होती, तो तेलंगाना कोरोना वायरस के कहर से मुक्त हो जाता. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि प्रदेश में किसी तरह के कम्यूनिटी ट्रांसफर का कोई मामला नहीं है.

स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक हैदराबाद में 12 क्लस्टर हैं और इन क्षेत्रों का जनसंख्या घनत्व भी काफी अधिक है इसकी वजह से इन इलाकों पर विशेष फोकस किया जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के विस्तार पर निर्णय 11 तारीख को प्रधानमंत्री के साथ होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद ही लिया जाएगा.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832