क्या चल रहा है?

कोरोना: केंद्र से दिल्ली को मिलेंगे एक लाख टेस्टिंग किट, रोज हजार लोगों की होगी जांच

  • टेस्टिंग किट्स पर केजरीवाल और सिसोदिया के अलग बयान
  • केजरीवाल ने कहा- शुक्रवार तक केंद्र से मिलेंगे 1 लाख किट्स

दिल्ली में कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि दिल्ली सरकार ने कोरोना के एक लाख टेस्टिंग किट के ऑर्डर दिए हैं. किट्स की सप्लाई होते ही दिल्ली में हर दिन एक हजार लोगों के टेस्ट किए जा सकेंगे.

दिल्ली सरकार के मुताबिक ये सभी टेस्टिंग किट्स 10 अप्रैल तक दिल्ली सरकार को मिल जाएंगे. किट्स मिलते ही अस्पतालों को दे दिया जाएगा. दिल्ली के दो अस्पतालों को कोरोना मरीजों के लिए पूरी तरह से तैयार कर दिया गया है. दिल्ली सरकार अब तक हर दिन 125 लोगों को टेस्ट करा पा रही थी. हालांकि एक अप्रैल से इसमें तेजी आई है और अब हर दिन 500 लोगों की जांच की जा रही है. अगले हफ्ते से इसमें और तेजी आएगी और यह दोगुना होकर हर दिन एक हजार लोगों की जांच हो पाएगी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार शाम एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से हमें पत्र मिला है कि 27,000 पीपीई किट्स दिल्ली को दी जाएंगी, कल (मंगलवार) या बुधवार तक हमारे पास किट्स आ जाएंगी. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और दिल्ली के सभी लोग इस लड़ाई को मिलकर लड़ रहे हैं.

मरीजों की संख्या के बारे में उन्होंने कहा कि दिल्ली में फिलहाल कोरोना के 523 मरीज हैं जिसमें पिछले 24 घंटे में 20 मरीजों की तादाद बढ़ी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में 523 पॉजिटिव केस में 330 मरकज के हैं. 61 लोगों की विदेश यात्रा की हिस्ट्री है. इनमें 8 मरीज वेंटिलेटर पर हैं जबकि 25 को आईसीयू में भर्ती कराया गया है. बाकी लोगों की हालत स्थिर है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा कि जिन लोगों ने ऑनलाइन राशन कार्ड अप्लाई किया है उनके लिए कल (मंगलवार) से 421 स्कूलों में राशन बंटना शुरू हो जाएगा. उन्होंने लोगों से अपील की है कि राशन लेने के क्रम में लोग भीड़ न लगाएं और आपसी दूरी का ख्याल जरूर रखें. दूसरी ओर उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में अभी सामूहिक तौर पर (कम्युनिटी स्प्रेड) संक्रमण की स्थिति नहीं आई है और ज्यादातर केस मरकज से निकले लोगों के हैं.

मुख्यमंत्री से अलग सिसोदिया का बयान

‘आजतक’ से एक विशेष बातचीत में मनीष सिसोदिया ने कहा कि मौजूदा हालत को देखते हुए दिल्ली कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है, लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि मरीजों की संख्या अगर बढ़ती है तो बड़ी चुनौती होगी. उन्होंने कहा कि संख्या कहां तक जाएगी किसी को नहीं पता, इसलिए लोगों को ज्यादा से ज्यादा घरों में ही रहना चाहिए. मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर उन्होंने तबलीगी जमात को जिम्मेदार ठहराया.

मनीष सिसोदिया ने उस पत्र का भी जिक्र किया जो उन्होंने वित्त मंत्रालय को लिखा है. पत्र में कहा गया है कि अन्य राज्यों को जैसे 17 हजार करोड़ का फंड दिया गया है, वैसे ही दिल्ली सरकार को भी दिया जाना चाहिए. बीजेपी सांसद गौतम गंभीर के अनुदान पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि अभी इससे ज्यादा जरूरी है कि वे (गंभीर) केंद्र सरकार से किट्स दिलाएं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच हो सके. सिसोदिया ने कहा कि बीजेपी सांसदों के लिए पैसे से ज्यादा जरूरी है कि वे मरीजों के लिए किट्स दिलाने का काम करें

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832