क्या चल रहा है?

केजीएमयू में कोरोना संक्रमित डॉक्टर को दी गई पहली प्लाज्मा थेरेपी; गोरखपुर पहुंचे पंजाब से 250 मजदूर

  • लखनऊ की पहली मरीज ने डोनेट किया प्लाज्मा, ब्लड ग्रुप था एक
  • राज्य में संक्रमितों का आंकड़ा 1895 पहुंचा, 1784 संदिध मरीजों को कराया गया भर्ती
  • अब तक 327 मरीज स्वस्थ हुए, 31की जान गई

लखनऊ. दिल्ली के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना संक्रमितों के इलाज की शुरुआत हो गई है। रविवार को किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती एक डॉक्टर की जान एक डॉक्टर ने प्लाज्मा डोनेट कर बचाई। अब इलाज कर रहे डॉक्टरों को संक्रमित की सेहत में सुधार का इंतजार है। इस बीच गैर राज्यों से श्रमिकों का वापस लौटना जारी है। उन्हें बसों से उनके गृह जनपद लाया जा रहा है। प्रदेश में अब मरीजों का आंकड़ा 1895 पहुंच गया है। 1784 संदिग्ध मरीजों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया गया। अब तक 327 मरीज स्वस्थ होकर अस्पतालों से छुट्टी पा चुके हैं। राज्य में सबसे अधिक 327 मरीज आगरा में हैं। दूसरे स्थान पर 207 मरीजों के साथ लखनऊ है। वहीं, कानपुर में बीते 24 घंटे में कानपुर में 26 मरीज मिलने के बाद अब 191 संक्रमित हो गए हैं। 10 जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं।

एडमिट व डिस्चार्ज मरीज का ब्लड ग्रुप ‘ओ’ मिला

दरअसल, बीते शुक्रवार को उरई में तैनात एक एनेस्थीसिया विशेषज्ञ डॉक्टर को केजीएमयू में भर्ती किया गया। वे 1981 बैच के चिकित्सक हैं और उन्होंने पढ़ाई भी केजीएमयू से की थी। उनकी सेहत बिगड़ती जा रही थी। इस पर उन्हें प्लाज्मा थेरेपी देने की योजना बनाई गई। संक्रमित डॉक्टर का ब्लड ग्रुप ओ था। वहीं, इससे पहले कनाडा से लौटी एक महिला डॉक्टर में कोरोना की पुष्टि बीते 11 मार्च को हुई थी। यह लखनऊ की पहली मरीज थी। संयोग से इनका भी ब्लड ग्रुप ओ था। केजीएमयू के डॉक्टरों ने फोन कर उन्हें बुलाया।

डॉक्टरों को हालत में सुधार का इंतजार

ब्लड ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की अध्यक्ष डॉक्टर तूलिका चंद्रा ने महिला का कोरोना टेस्ट के साथ अन्य जांचें कराई। इसक बाद डॉक्टर को प्लाज्मा थेरेपी दी गई। फिलहाल ठीक हो चुकी महिला का संग्रह 500 एमएल प्लाज्मा में से 200 एमएल चढ़ाया गया है। अब दूसरे दिन 200 एमएल चढ़ाया जाएगा। अब डॉक्टरों को उसकी हालत में सुधार का इंतजार है। बता दें कि, इससे पहले दिल्ली में प्लाज्मा थेरेपी से संक्रमितों का इलाज करने की पहल शुरू हुई थी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कोरोनावायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील कर चुके हैं।

कोरोना अपडेट्स…

  • मुरादाबाद: जिले में एक पेट्रोल पंप ने कोरोना वायरस के प्रति जागरुकता के लिए अनोखी पहल शुरू की है। पेट्रोल पंप के मैनेजर संजय बिश्नोई ने बताया कि, आमजनों को मास्क पहनने के लिए एक रुपए की छूट दी जा रही है। जबकि, स्वास्थ्य कर्मियों को दो रुपए की छूट दी जा रही है। यह छूट लोगों को मास्क पहनने व हमारे कोरोना योद्धाओं को प्रोत्साहित करने के लिए है।
  • लखनऊ: रविवार की देर शाम पीजीआई में कोरोना पीड़ित 72 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। वह श्रावस्ती जिले का रहने वाला था। उन्हें किडनी की समस्या थी। बेटे ने 22 अप्रैल को लखनऊ के चंदन अस्पताल में भर्ती कराया। यहां निजी लैब में वायरस की पुष्टि होने पर 24 अप्रैल को संक्रमित को पीजीआइ के कोविड अस्पताल में शिफ्ट करा दिया गया। लेकिन रविवार शाम उनकी मौत हो गई। पिता का इलाज कराने आए 30 वर्षीय बेटे में भी कोरोना की पुष्टि हुई है।
  • झांसी: मेडिकल कॉलेज से आई रिपोर्ट में एक केस पॉजिटिव मिला है। 59 साल का एक शख्स संक्रमित मिला है। इसके बाद जिला प्रशासन ने ओरछा गेट एरिया को सील करते हुए इसे हॉटस्पॉट घोषित किया है। वहीं, लॉकडाउन के कारण उत्पन्न दुश्वारियों के बीच महारानी लक्ष्मीबाई की धरती झांसी में बने सरकारी और गैर सरकारी 80 सामुदायिक रसोईघर लाखों लोगों के लिए राहत का सबब बन गए हैं। ये कम्युनिटी किचन अब तक चार लाख अस्सी हजार से ज्यादा लोगों की भूख मिटा चुके हैं। इनकी गुणवत्ता परखने के लिए स्वयं जिला अधिकारी अलग-अलग जगह जाकर खाना खाते हैं।
  • गोरखपुर: लॉकडाउन के बीच गैर राज्यों में फंसे श्रमिकों को योगी सरकार अपने घर पहुंचा रही है। इसी क्रम में सोमवार सुबह रोडवेज की दस बसों से करीब 250 मजदूर गोरखपुर पहुंचे। ये सभी पंजाब में मजदूरी करते थे। सीओ कैंपियरगंज की अगुवाई में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी की चेकिंग की है। मजदूरों को जांच के बाद क्वारैंटाइन किया जा रहा है।
  • वाराणसी: जिले में कोरोनावायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। रविवार देर शाम आयी रिपोर्ट में 3 नए पॉजिटिव केस मिले। जिसमें 1 सिगरा थाने की नगर निगम पुलिस चौकी का सिपाही है। अब जिले में 8 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं। अब जिले में 37 पॉजिटिव और 28 एक्टिव केस हो गए हैं। वहीं, सेवापुरी विकास खंड का ग्राम अर्जुनपुर 8वां हॉटस्पॉट हो गया है। 8 लोग स्वस्थ हुए हैं और 1 की मौत हो चुकी है। नए मिले दो लोग कोलकाता से ट्रक में छिपकर वाराणसी आए थे। ग्रामीणों ने सूझबूझ दिखाते हुए इन्हें गांव में घुसने नहीं दिया था। जिससे संक्रमण फैल नहीं सका।

24 घंटे 82 नए केस, 66 डिस्चार्ज हुए
उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोनावायरस के 82 नए केस सामने आए। इनमें लखनऊ, सहारनपुर व कानपुर में 21-21 वाराणसी में 11, हापुड़ में 7, गाजियाबाद में 5, नोएडा में 4, अलीगढ़ में दो और जालौन, बहराइच, श्रावस्ती, संभल, मुजफ्फरनगर, बदायूं, मथुरा, गोरखपुर, झांसी व आगरा में एक-एक मरीज मिला। इस दिन 66 मरीजों को अस्पतालों से डिस्चार्ज किया गया। यह प्रदेश में एक दिन में डिस्चार्ज होने वाले मरीजों का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। वहीं, मेरठ, आगरा व लखनऊ में 1-1 रोगी की मौत भी हुई। कोरोनावायरस अब तक राज्य में 31 लोगों की जान ले चुका है।

ये फोटो मुरादाबाद के एक पेट्रोल पंप की है। कोरोना की जंग में लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करने को एक रुपए की छूट दी जा रही है। वहीं स्वास्थ्य कर्मियों को दो रुपए की छूट मिली रही है।अब तक 31 की गई जान: आगरा में 10, छह मुरादाबाद में, मेरठ में 5, कानपुर में 3, लखनऊ में दो और बस्ती, वाराणसी, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, अलीगढ़ में एक-एक रोगी की कोरोना वायरस से जान गई है। अब तक 61799 सैंपल लैब भेजे जा चुके हैं। इनमें से 58,492 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 984 लोगों की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832