क्या चल रहा है?

केजरीवाल ने कहा- ठीक हुए मरीज प्लाज्मा दें; एम्स डायरेक्टर बोले- प्लाज्मा जादू की गाेली नहीं

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के इलाज में प्लाज्मा थैरेपी के नतीजे उत्साहवर्धक बताए हैं। उन्हाेंने ठीक हाे चुके लाेगाें से प्लाज्मा दान करने का अाह्वान किया है। इसी बीच, एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि प्लाज्मा थैरेपी काेई जादू की गाेली नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में चार गंभीर मरीजों पर प्लाज्मा थैरेपी का परीक्षण किया गया। इनमें से दो को जल्दी छुट्टी मिल जाएगी। यह शुरुआती नतीजे हैं। ऐसा नहीं सोचना चाहिए कि कोरोना का इलाज मिल गया है। लेकिन, उम्मीद की किरण है।

दूसरी ओर, एम्स के डायरेक्टर डाॅ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि प्लाज्मा थैरेपी उपचार का एक तरीका है। जरूरी नहीं कि यह सभी मरीजाें पर असर दिखाए। क्याेंकि संक्रमण मुक्त हाेने के 14 दिन बाद प्लाज्मा दान करने के इच्छुक लाेगाें के शरीर में अच्छी मात्रा में एंटीबाॅडी भी हाेने चाहिए। कुछ अध्ययन दिखाते हैं कि ठीक हाेने वालाें के शरीर में पर्याप्त एंटीबाॅडी नहीं बनतीं।

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832