काल चक्र

कल बत्ती बंद होने से पावर ग्रिड पर पड़ सकता है असर, UPSLDC ने दिए सुझाव

  • पावर ग्रिड पर पड़ सकता है असर
  • UPSLDC ने पत्र लिखकर दिया सुझाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों से पांच अप्रैल यानी रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की बत्ती बंद कर, घर के बाहर या बालकनी में दीया, टॉर्च, मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने को कहा है. पीएम मोदी ने इस तरीके से लोगों को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता प्रदर्शित करने को कहा है. पीएम मोदी की इस अपील के बाद बिजली विभाग अलर्ट हो गया है.

माना जा रहा है कि पीएम मोदी के इस आह्वान के बाद यूपी में बिजली की खपत में 3000 मेगावाट की कमी आएगी. इससे हाईवोल्टेज की समस्या हो सकती है.

इसको देखते हुए यूपी स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर ने यूपी पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन को पत्र लिखकर ग्रिड की सुरक्षा और सुचारू बिजली आपूर्ति के लिए कुछ बिंदुओं पर सुझाव दिए हैं. सेंटर का अनुमान है कि पीएम के आह्वान के कारण बिजली बंद होने से बिजली की खपत में 3000 मेगावाट की कमी आएगी. इसके कारण हाईवोल्टेज की समस्या हो सकती है.

वहीं कर्नाटक के विद्युत विभाग ने कहा है कि उनके पास लोड शेडिंग को लेकर कोई प्रोग्राम नहीं है. सिर्फ हाइड्रो पावर यूनिट को स्विच ऑफ करने को कहा गया है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर पावर ग्रिड्स फेल होने की आशंका जाहिर की है. उन्होंने लिखा, ‘जब देश कोरोना के खिलाफ युद्ध में एकजुटता का इजहार कर रहा है, आशा है कि केंद्र सरकार द्वारा पॉवर ग्रिडस एवं इंजीनियरों की चिंताओं का भी ध्यान रखा जा रहा है, ताकि संकटकाल में और जरूरत के समय बिजली आपूर्ति में कोई बाधा न हो.’

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने अपने ट्विटर पर लिखा, ‘एक व्यक्ति जो तीन दशकों से विद्युत विभाग से जुड़े रहे हैं और मंत्री भी रहे हैं, उन्होंने कहा है कि पांच अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट तक लाइट ऑफ रखने से ग्रिड पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है. मुझे उम्मीद है कि सरकार इसे ठीक से मैनेज कर रही होगी.

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//haunigre.net/afu.php?zoneid=3256832