क्या चल रहा है?

कंटेनमेंट प्रोटोकाॅल को सख्ती से लागू करने का आदेश; पाॅजिटिव केस के आधार पर जिले के लिए बनाएं एक्शन प्लान: सीएम

  • कहा- काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग, सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग एडवांस प्लानिंग के साथ की जाए
  • कोरोना संक्रमितों की पहचान के लिए सभी जिलों में डोर टू डोर स्क्रीनिंग गहनता से कराई जाए

पटना. राज्य में कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कन्टेनमेंट प्रोटोकाॅल को सख्ती से लागू करने की आवश्यकता जताई है। ताकि इसके प्रसार को रोका जा सके। शनिवार को मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव दीपक कुमार और अन्य अधिकारियों के साथ कोविड-19 के संबंध में अद्यतन स्थिति और कोरोना संक्रमण से बचाव कार्य की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा कि काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग, सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग एडवांस प्लानिंग के साथ की जाए ताकि संसाधनों का दक्षतापूर्वक उपयोग हो सके। कोरोना संक्रमितों की पहचान के लिए सभी जिलों में डोर टू डोर स्क्रीनिंग गहनता से कराई जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों में पाए जा रहे पाॅजिटिव केसों के आधार पर जिले के लिए एक्शन प्लान बनाते हुए संक्रमण की चेन को रोकने की दिशा में कार्रवाई होनी चाहिए। कोरोना संक्रमण के पाॅजिटिव मामलों की चेन को शीघ्रता से ट्रेस किया जाए ताकि सैंपल कलेक्शन और टेस्टिंग हो सके।

सबसे नया

To Top
//luvaihoo.com/afu.php?zoneid=3256832