क्या चल रहा है?

एक सीन में मैंने पकाया था मीट; शूट खत्म होने के बाद ने ऋषिजी ने वही खाया, उन्हें पसंद था लखनवी नॉनवेज

  • फिल्म मुल्क ऋषि कपूर की आखिरी फिल्मों में से एक थी, इसकी शूटिंग लखनऊ में हुई थी
  • फिल्म में ऋषिजी के दोस्त की भूमिका निभाने वाले कलाकार डॉक्टर अनिल रस्तोगी व अतुल तिवारी ने साझा किए किस्से

लखनऊ. (रवि श्रीवास्तव) फिल्म मुल्क ऋषि कपूर के करियर की कुछ आखिरी फिल्मों में से एक है। वे इसमें एक मुस्लिम वकील के रोल में थे। यह फिल्म लखनऊ में ही शूट हुई थी। यहां से ताल्लुक रखने वाले कलाकार डॉक्टर अनिल रस्तोगी व अतुल तिवारी ने ऋषि कपूर के साथ कई दिनों तक काम किया था। करीब एक माह में यह पूरी फिल्म शूट हो गई थी। जिसके बाद साल 2018 में रिलीज हुई। ऋषिजी के निधन से अनिल व अतुल काफी दुखी हैं। इन सभी से फोन पर बात हुई। इन कलाकारों ने जैसा बताया वैसा ही लिखा गया है…

डॉ. अनिल रस्तोगी (मुल्क फिल्म में ऋषि कपूर के दोस्त रस्तोगी का किरदार)

ऋषि कपूर लीजेंड एक्टर हैं। उनका जाना वाकई तकलीफदेह है। मैं उनके साथ दूसरी फिल्म कर रहा था। इससे पहले मैंने चिंटू जी में काम किया था और दूसरी फिल्म मुल्क थी। दोनों में ही मेरा उनके साथ अच्छा रोल था। जब चिंटू जी फिल्म हम शूट कर रहे थे तब उनके बेटे रणवीर कपूर की पहली फिल्म सांवरिया रिलीज होने वाली थी। वह उसे लेकर काफी उत्साहित थे। शूट पर उन्होंने सबको मिठाई खिलाई थी और रणबीर की फिल्म लांच कराने के लिए उन्होंने उस समय दो-तीन दिन का ऑफ भी लिया था।

अनिल रस्तोगी।जब सालों बाद मुल्क फिल्म की शूट पर वह लखनऊ आए तो वह आदमी इतना बड़ा स्टार होने के बाद भी हम लोगों को भूला नहीं था। सेट पर मिलते ही बोले अरे रस्तोगी कैसे हो? वह चिंटूजी फिल्म के सेट पर बिताए दिन याद करने लगे। चूंकि चिंटूजी फिल्म में लखनऊ के चार कलाकार काम कर रहे थे तो उन्होंने उन साथियों के बारे में भी पूछा। उन्हें नॉनवेज बहुत पसंद था। मुझे मुल्क फिल्म का शुरूआती सीन याद आ रहा है। जिसमें ऋषि कपूर के घर में मीट की दावत होती है। उस मीट को मैं पका रहा होता हूं तो वह मुझसे कहते हैं कि आज तो आपका धर्म भ्रष्ट होगा। आपको बताऊं कि उस दिन दावत का सीन करने के लिए लगभग 7-8 किलो बकरे का मीट पकाया गया था और सीन के बाद खाने में ऋषि साहब ने वही मीट खाया। उन्हें लखनऊ का नॉनवेज भी बहुत पसंद था।

ऋषि साहब का एक किस्सा है। लखनऊ के ही कलाकार देशराज सिंह फिल्म में नोडल अफसर की भूमिका निभा रहे थे। वह उनके घर में रेड मारते हैं। चूंकि काफी जूनियर थे तो वह जब ऋषि जी से मिलने गए तो वह बहुत ही अच्छे से मिले और देशराज से बोला ‘लखनऊ नायाब शहर है, बरखुरदार काम करते रहो रास्ते खुद मिलते जाएंगे’। इतने बड़े कलाकार होने के बावजूद कभी भी उन्होंने सेट पर हम लोगों को अहसास नहीं होने दिया। वह अपना सीन खत्म करने के बाद भी बहुत कम वैनिटी वैन में जाते थे। सेट पर स्टाफ से बात किया करते थे।

 

अतुल तिवारी (मुल्क फिल्म में ऋषि के दोस्त चौबे की भूमिका में)

मेरा और ऋषि जी का बहुत ही पुराना और गर्म रिश्ता था। मेरा संबंध उनका राहुल रवैल साहब की वजह से था। राहुल उनके बचपन के दोस्त थे। हम लोग शशि कपूर जी के पृथ्वी थियेटर में हम लोग मिलते थे। वहां साल में दो पार्टियां होती थी। जिसमें हम लोग साथ में खाने से ज्यादा साथ में पीते थे। मुल्क फिल्म में जब मैं पहले दिन सेट पर ऋषि जी को नमस्ते करने गया तो उन्होंने मुझे देखते ही कहा यार यहां खाना अच्छा नहीं मिलता है। हमने कहा अरे खाना आपका कहां से आ रहा है? उस वक्त खाना बड़े फाइव स्टार होटल से आ रहा था, मैं नाम नही लूंगा। तो मैंने कहा आप बताइए क्या खाएंगे? कल से मैं आपके लिए टिपिकल अवधी खाना मंगवाता हूं। मैंने गोमतीनगर से एक अवधी होटल से खाना मंगाया। अगले दिन खाना आया और ऋषि जी की वैन में गया तो उन्होंने मुझे और प्रोडक्शन वाले को बुलाया और कहा अब खाना यहीं से आएगा। तकरीबन डेढ़ महीने वह रुके और खाना वहीं से आता रहा। शूटिंग पर वह बिना मेरे खाते नहीं थे। हालांकि अजीब लगता था कि पूरी टीम के साथ नहीं खाना होता था। मेरा ऋषि जी के साथ ही खाना होता था। ऋषि जी का मुल्क फिल्म में मुख्य किरदार था तो वह घूमने नहीं जाते थे और इतना ज्यादा मेकअप था कि उन्हें टाइम भी नही मिलता था।

अतुल तिवारी।

जिस दिन मुल्क फिल्म का ट्रायल हुआ तो उस दिन उनकी पत्नी नीतू जी भी आई थीं। तब तक उनके बेटे रणबीर कपूर की फिल्म संजू आ चुकी थी, जोकि जबरदस्त चली थी। इंटरवल में हम लोग निकले तो नीतू जी से मैंने कहा ‘both your boys are doing so well, how was your feeling।’ वह हंसी और पलटकर बोली ‘i know and i am so proud and so happy and i specialy happy about this little one। उन्होंने ऋषि जी के गाल पर चुटकी काटी और बोली मैं इस छोटे वाले के ज्यादा खुश हूं।  मेरा बेटा तो बड़ा हो गया है लेकिन मै ऋषि के लिए बहुत खुश हूं।

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832