वायरल न्यूज़

आयुर्वेद में अमृत समान है गिलोय, बुखार जैसी सामान्य समस्या के साथ ही बढ़ाता है शरीर की इम्यूनिटी

आयुर्वेद में अमृत समान है गिलोय, बुखार जैसी सामान्य समस्या के साथ ही बढ़ाता है शरीर की इम्यूनिटी

आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी बूटियां हैं. जिससे बड़ी सी बड़ी बिमारी का इलाज किया जा सकता है. इसी बीच आज हम ऐसी ही एक औषधि के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसे आयुर्वेद में अमृत के समान माना गया है. यहां हम बात कर रहे हैं गिलोय की. जो रोगों को दूर रखने के लिए सबसे अच्छी औषधि मानी जाती है. गिलोय का सबसे अच्छा गुण तो यह है कि यह जिस भी पेड़ पर चढ़ जाती है. अपने अंदर उस पेड़ के गुण को ले लेती है. नीम पर चढ़ी हुई गिलोय सबसे अच्छी मानी जाती है. तो चलिए आज आपको बताते हैं गिलोय के ऐसे ही कुछ अनूठे फायदे –

1. करती है ज्वरनाशक का काम –

गिलोय को ज्वरनाशक भी कहा जाता है. कोई भी व्यक्ति अगर ज्यादा दिनों से किसी भी तरह के बुखार से पीड़ित है, तो ऐसे व्यक्ति को रोजाना गिलोय का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद साबित होगा.

Courtesy

2. बढ़ती है आंखों की रोशनी –

जिन लोगों की आंखों की रोशनी कमजोर है. गिलोय के रस में आंवले का रस मिलाकर पीना चाहिए. इससे आंखों की रोशनी भी बढ़ती है. साथ ही आंखों से संबंधित दूसरी समस्या नहीं होती है. गिलोय एक शामक औषधि है. जिस वजह से इसका सही तरीके से इस्तेमाल करने से वात, पित्त और कफ से होने वाली बीमारियों से निजात पाया जा सकता है.

3. पाचन –

रोजाना गिलोय के रस का सेवन करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है. आप आधा ग्राम गिलोय पाउडर और आंवले के चूर्ण को मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं. गिलोय आपके शरीर में खून के प्लेटलेट्स की गिनती को भी बढ़ाता है.

Courtesy

4. डायबिटीज –

डायबिटीज के मरीजों के लिए यह वरदान की तरह है. डाइबिटीज के रोगियों को हाथ की छोटी उंगली के बराबर गिलोय के तने का रस और बेल के एक पत्ते के साथ थोड़ी सी हल्दी मिलाकर एक चम्मच रस का रोजाना बनाकर इसका रोजाना सेवन करना चाहिए।

5. मोटापा करेगा नियंत्रित –

मोटे लोगों को रोजाना गिलोय का सेवन करना चाहिए. एक चम्मच गिलोय के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह-शाम लेने से मोटापा दूर करने में मदद मिलती है.

Courtesy

6. बढ़ेगी इम्यूनिटी –

गिलोय में एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो खतरनाक रोगों से शरीर को बचाने में मदद करता है. गिलोय किडनी और लिवर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने के साथ ही खून को साफ करती है. रोजाना गिलोय का जूस पीने से रोगों से लड़ने की क्षमता में बढ़ती है.

7. सर्दी-खांसी भी होगी दूर –

अगर कोई व्यक्ति सर्दी-खांसी-जुकाम की से परेशान है. तो ऐसे लोगों को गिलोय के रस का सेवन जरूर करना चाहिए. हर रोज सुबह दो चम्मच गिलोय का रस पीने से खांसी में राहत मिलती है.

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832