क्या चल रहा है?

अब तक 487 केस; वाराणसी में मदनपुरा क्षेत्र सील, सीएम योगी ने ‘आगरा मॉडल’ की सराहना की

  • राज्य के 41 जिलों में फैला कोरोना का संक्रमण, सबसे ज्यादा केस आगरा में
  • लॉकडाउन की अवधि पूरी होने के बाद 15 अप्रैल से राज्य में किसानों, ऑनलाइन कारोबारियों को मिलेगी सहूलियत
  • सीएम योगी ने पेयजल, रोजगार, कृषि, वित्त व शिक्षा से जुड़ी कई समितयां बनाईं, मंत्रियों को कार्यालयों में बैठकर कामकाज करने का दिया निर्देश

लखनऊ. कोरोनावायरस (कोविड-19) की वजह देशभर में लॉकडाउन का आज 21वां दिन है। अब तक राज्य में 487 टेस्ट पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें 272 कोरोना संक्रमित तब्लीगी जमाती हैं। रविवार को 31 नए केस सामने आए थे। 15 दिन और लॉकडाउन की अवधि बढ़ने की संभावनाओं के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संकट का मुकाबला करने के लिए कई समितियां बनाई है। पेयजल, उद्योग, वित्त, रोजगार से जुड़ीं ये समितियां 15 अप्रैल के बाद लॉकडाउन के दूसरे चरण पर काम करेंगी।

सीएम योगी ने आगरा मॉडल की सराहना की
राजस्थान के भीलवाड़ा के बाद देशभर में आगरा मॉडल की चर्चा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी आगरा मॉडल की सराहना की है। ताजनगरी में अब तक 134 केस सामने आए। इनमें 52 जमाती हैं। प्रशासन ने फरवरी में जूता कारोबारी दो भाईयों में सक्रमण की पुष्टि के बाद हॉट स्पॉट को चिन्हित किया। इसके बाद यहां रैपिड रिस्पांस टीम ने संक्रमित की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की। इसके बाद हॉट स्पॉट व 38 एपिसेंटर चिन्हित किए। जिन्हें मैप पर दिखाया गया। इसके साथ ही 3 किमी का कंटोनमेंट जोन व 5 किमी को बफर जोन में तब्दील किया गया।

नगर निगम व स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों को मिलाकर 1248 विशेष टीमें बनाई गई। यहां 1.65 लाख घरों की स्क्रीनिंग की। इनमें से 25 सौ लोगों की पहचान की गई। जिसमें 36 ऐसे थे, जिन्होंने विदेश की यात्रा की थी। सबकी जांच कराई गई। बिना कर्फ्यू लगाए 22 से अधिक क्षेत्रों को सील किया गया। यहां डोर स्टेप डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं को पहुंचाया गया। दमकल की गाड़ियों से इन क्षेत्रों को सैनिटाइज किया गया। इस मॉडल के सफल होने पर योगी सरकार ने प्रदेश के 104 हॉट स्पॉट को सील किया।

अब प्रशासन का आइसोलेशन वार्ड की क्षमता बढ़ाने पर जोर
पुलिस महानिरीक्षक ए सतीश गणेश ने बताया कि, प्रशासन आइसोलेशन वार्डों की क्षमता बढ़ाने पर लगातार काम कर रहा है। जहां भी हमें पॉजिटिव केस मिले, हम उन क्षेत्रों में डोर-टू-डोर सर्वे कर रहे हैं। अब तक हमने शहर में 1,65,000 लोगों की जांच की है। जब फरवरी के पहले सप्ताह में आगरा में पहले कोविड-19 पॉजिटिव केस का पता चला तो हमने संपर्क में आने वालों की पहचान शुरू की। फिर हमने लोगों के नमूने एकत्र करना शुरू किया।

कोरोना अपडेट्स…

  • नोयडा: गौतमबुद्धनगर जिले में अब तक 64 संक्रमित मिल चुके हैं। रविवार को यहां एक युवक की गर्लफ्रेंड के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसके पूरे परिवार को क्वारैंटाइन कर दिया गया। दरअसल प्रशासन को खबर लगी थी कि, लड़की कोरोनावायरस से संक्रमित है। उससे पूछा गया कि वह किसके-किसके सम्पर्क में आई है। तब उसने युवक के बारे में जानकारी दी। प्रशासन ने सभी का सैंपल लिया है।
  • वाराणसी: यहां अब तक 9 टेस्ट पॉजिटिव मिल चुके हैं। प्रशासन ने मदनपुरा को कोरोना हॉटस्पॉट घोषित किया है। यहां संदिग्धों की जांच, डोर स्टेप डिलीवरी आदि सुविधाओं के लिए प्रशासन ने मोबाइल वार्ड फ्लू क्लीनिक तैयार की है। जिसके माध्यम से शहरी क्षेत्र के विभिन्न वार्डो में 10587 मरीज सहित अब तक कुल 37122 मरीज देखे गए। जिसमें 726 सामान्य रोगी एवं सर्दी, जुकाम, बुखार के लक्षण वाले रोगी पाए गए। विदेशी यात्रियों सहित कुल 1,17,271 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गयी है। अब तक जनपद में कुल 22,245 व्यक्तियों को क्वारैंटाइन किया गया है।
  • बुलंदशहर: महिला डॉक्टर व उसके बेटे में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि के बाद अब संक्रमितों की संख्या 13 पहुंच गई है। यहां कोरोना वायरस से संक्रमित एक डॉक्टर की मौत के बाद मृतक की पत्नी और बेटे का सैंपल लिया गया था। दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। संक्रमितों में 6 तब्लीगी जमाती हैं। प्रशासन ने जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड सहित नगर के 2 निजी अस्पतालों को सील कर दिया है।
  • बागपत: प्रशासन ने दो कोरोना पॉजिटिव जमातियों के बड़ौत व ओसिका गांव में पोस्टर लगाए हैं। बिहार निवासी इन जमातियों के संपर्क में आए लोगों को जांच के लिए सचेत किया गया है। 19 मार्च को दिल्ली के निजामुद्दीन से बड़ौत और ओसिका गांव की मस्जिद में रुके थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने डोर-टू-डोर सर्वे शुरू किया है।
  • बदायूं: जिले में रविवार की शाम भवानीपुर खली में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद आसपास के 14 गांवों को सील कर दिया गया है। वह दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुई जमात में शामिल हुआ था। जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने बताया कि, संक्रमित आंध्र प्रदेश का रहने वाला है। वह यहां की एक मस्जिद में ठहरा था। इलाके में सेक्टर मैजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए हैं। गांव में जरूरी सामान पहुंचाए जा रहे हैं, साथ ही संदिग्धों की जांच की जा रही है।

बागपत प्रशासन ने बिहार के दो जमातियों के पोस्टर दो गांवों में चस्पा किया है।राज्य में अब 6052 में कोरोना जैसे लक्षण
यूपी के 41 जिलों में कोरोना का संक्रमण अपना पैर पसार चुका है। कुल 487 संक्रमित मिले हैं। इनमें 272 लोग तब्लीगी जमाती हैं। जबकि, प्रदेश में अब तक 6052 लोगों में कोरोना जैसे लक्षण मिले हैं। जांच के लिए अब तक कुल 11,855 सैंपल भेजे गए हैं, जिनमें 11,250 की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है। कोरोना प्रभावित देशों से अब तक कुल 69,556 लोग प्रदेश वापस लौटे हैं। 22,897 यात्रियों को निगरानी में रखा गया है। 8,836 लोगों को इंस्टीट्यूशनल क्वारैंटाइन में रखा गया है। वहीं, अब तक छह संक्रमितों की मौत हो चुकी है।


Source :www.bhaskar.com

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832