क्या चल रहा है?

अब तक 2387 संक्रमित, लॉकडाउन के तीसरे फेज के लिए थ्री लेयर रोडमैप बना रही सरकार; सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर एक हजार रु. का जुर्माना

  • इंदौर, भोपाल, खरगोन और उज्जैन में कोरोना के नए मामले लगातार सामने आ रहे हैं, ऐसे में यहां आगे भी सख्ती बरती जाएगी
  • भोपाल पुलिस ने बीते 24 घंटे में बेवजह और बगैर मास्क के घूमने वाले लोगों के खिलाफ 92 केस दर्ज किए हैं

भोपाल. लॉकडाउन फेज-2 के खत्म होने में 6 दिन बचे हैं। इसके बाद प्रदेश में क्या होगा, इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को केंद्र की गाइडलाइन के मुताबिक थ्री लेयर रोडमैप बनाने के निर्देश दिए हैं। रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में आने वाले जिलों के लिए अलग-अलग व्यवस्थाएं की जा सकती हैं।

अगर प्रदेश में लॉकडाउन का तीसरा फेज शिवराज सरकार लागू करती है तो इसका स्वरूप कुछ बदला हुआ होगा। हालांकि, जिस तरह इंदौर, भोपाल, खरगोन और उज्जैन में कोरोना संक्रमण के नए मामले लगातार सामने आ रहे हैं, उससे यही संकेत मिल रहे हैं कि यहां अभी और सख्ती बरती जाएगी।

भोपाल: मंगलवार को 30 नए कोरोना संक्रमित की पुष्टि

भोपाल में मंगलवार देर शाम तक 30 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई। अब तक शहर में 458 केस हो गए। रायसेन से 2 दिन पहले एम्स रेफर किए गए मरीज की मौत हो गई है। इस मरीज की चार दिन पहले पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। जिला प्रशासन के सूत्रों का कहना है कि आज देर रात तक भोपाल में संक्रमित मरीजों की संख्या में और इजाफा हो सकता है। प्रशासन पॉजिटिव मरीजों की संशोधित सूची जारी कर सकता है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, मंगलवार को 4 नए जिले में कोरोना के केस मिले। इनमें शहडोल, रीवा में 2-2 और बुरहानपुर, अशोकनगर में एक-एक नया संक्रमित मिला। अशोकनगर में पॉजिटिव व्यक्ति की रिपोर्ट मौत के बाद आई। प्रदेश में अब तक 31 जिलों में कोरोनावायरस फैल गया है।

सोमवार को प्रदेश में संक्रमण से 7 मरीजों की मौत

प्रदेश में सोमवार को सात लोगों की संक्रमण के चलते मौत हुई। इंदौर और उज्जैन में 3-3 मरीजों ने दम तोड़ा। भोपाल में अशोकनगर की एक संक्रमित महिला की मौत हुई। प्रदेश में सोमवार को ही 206 नए मरीज मिले। इसमें इंदौर में 165, भोपाल में 21, उज्जैन में 13, शहडोल में 2, जबलपुर में 2 और इटारसी, रायसेन और देवास में 1-1 संदिग्ध मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। भोपाल में जो मरीज मिले हैं उनमें एक डॉक्टर और एक पुलिसकर्मी की बेटी शामिल है।

सार्वजनिक स्थानों पर थूकते पाए जाने पर 1 हजार रु. का जुर्माना

मध्यप्रदेश में सार्वजनिक स्थानों पर थूकते पाए जाने पर 1 हजार रुपए का जुर्माना देना होगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में सोमवार को आदेश जारी किए हैं। प्रमुख सचिव नगरीय विकास संजय दुबे ने बताया कि मध्य प्रदेश लोक स्वास्थ्य अधिनियम के तहत कोविड-19 की रोकथाम के लिए सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर 1 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया गया है। इसके लिए स्थानीय नगरीय निकाय के आयुक्त, मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को अधिकृत किया गया है। इससे पहले सरकार ने लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया था।

गुना में लॉकडाउन में ढील मिलते ही दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ लगना शुरू हो गई है। लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं।

कोरोना अपडेट्स

  • स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, प्रदेश में अब तक 2387 संक्रमित हैं। 375 स्वस्थ हो गए हैं। जबकि कोरोनावायरस से 120 की जान गई।
  • पन्ना: मंगलवार शाम एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस सूत्रों के अनुसार, 19 साल का रामलाल कुशवाहा अमानगंज थाना अन्तर्गत क्वारैंटाइन सेंटर में था। अचानक उसने फांसी लगा ली। घटना के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे।
  • रायसेन: जिले में मंगलवार को 12 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। जिले में कुल 45 कोरोना संक्रमित हो गए। आज अल्ली गांव में जिन 10 मरीजों को संक्रमण की पुष्टि हुई है वे पहले से संक्रमित 10 जमातियों के रिश्तेदार हैं। नए संक्रमितों में दो महिलाएं और एक 11 साल का बच्चा भी शामिल है। एक संक्रमित की आज एम्स में मौत हो गई। रायसेन में अब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी है। इससे पहले दो भाईयों की जान गई थी। अल्ली गांव में 10 जमातियों में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम को घुसने नहीं दिया था।
  • जबलपुर: मंगलवार 6 नए केस सामने आए। यहां अब तक 76 कोरोना पॉजिटिव पाए गए। एक आईपीएस के संक्रमित पाए जाने के बाद मंगलवार को एक तहसीलदार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अन्य पांच में से दो पुलिसकर्मी हैं। सात स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। एक की मौत के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आई।
  • उज्जैन: जिले में सोमवार को 13 नए संक्रमित कोरोना मरीज मिले। स्वास्थ्य विभाग ने 35 दिन में 2666 लोगों के सैंपल लिए। इनमें 2259 की रिपोर्ट आ चुकी है। अब तक 120 पॉजिटिव मिले हैं। 407 सैंपल की रिपोर्ट पेंडिंग है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, उज्जैन जिले में कोरोना 27 इलाकों में फैल चुका है। अब तक के आंकड़ों के मुताबिक जिले के हर 19वें संदिग्ध में कोरोना संक्रमण मिला है। यदि पॉजिटिव आने की रफ्तार यही मानी जाए तो 407 में से 20 से ज्यादा मरीज और संक्रमित मिल सकते हैं। इन 27 में से 23 सिर्फ इलाके पुराने शहर में हैं।
  • ग्वालियर: जेएएच के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना संदिग्ध मरीज मोहन लाल शर्मा (70) निवासी मुरार और श्योपुर की सविता की इलाज के दौरान मौत हो गई, जबकि किलागेट घासमंडी निवासी मनोज कुशवाह (25) की घर पर मौत हो गई। मनोज को कोरोना संदिग्ध मानकर उसके शव को जेएएच भेज दिया गया। मोहन लाल और मनोज का शव पोस्टमार्टम हाउस में रिपोर्ट आने तक के लिए सुरक्षित रखवा दिया गया है।
  • इंदौर: कोरोनावायरस से स्वस्थ होकर मरीजों के डिस्चार्ज होने का सिलसिला जारी है। सोमवार को अरबिंदो अस्पताल से 11 और चोइथराम अस्पताल से तीन मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे। अब तक 137 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। फिलहाल अस्पतालों में 250 से अधिक मरीज भर्ती हैं। मंगलवार को इंडेक्स अस्पताल से करीब 45 और टीबी अस्पताल से भी 4 मरीजों को डिस्चार्ज किया जाएगा। अरबिंदो से रिजवाना, बीना अग्रवाल, घनश्याम अग्रवाल, लोकेश, सलमा खातून, दिलीप कुमार लाठी, सुल्तान अली, शमशाद बी, खतिया, दो अन्य को डिस्चार्ज किया गया। चोइथराम से 74 साल के एसएन भूतड़ा, 72 साल के सैफुद्दीन कुरैशी कोरोना से जंग जीतकर घर लौटे। 40 साल के आंजनेय वर्मा भी डिस्चार्ज हुए।
  • भोपाल: राजधानी का भेल कारखाना मंगलवार से खुल जाएगा। कलेक्टर ने यूनिट को सशर्त खोलने की अनुमति दे दी है। यदि कारखाने में कोई भी कर्मचारी पॉजिटिव पाया जाता है तो अनुमति निरस्त मानी जाएगी। भेल में 4500 हजार कर्मचारी हैं। इनमें भेल टाउनशिप में 400 कर्मचारी रहते हैं। कारखाने में वही कर्मचारी काम करेंगे, जो भेल टाउनशिप में रहते हैं। कंटेनमेंट क्षेत्रों का कोई भी कर्मचारी भेल नहीं आएगा। सिर्फ 30 फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग और सैनेटाइजर रखना होगा।
  • बिना मास्क के घूमने वाले 30 लोगों पर केस दर्ज: भोपाल पुलिस ने बगैर मास्क पहने फल बेच रहे व्यापारी के खिलाफ लॉकडाउन उल्लंघन का केस दर्ज किया है। शहर में मास्क पहनकर न घूमने वाले ऐसे 30 लोगों को पुलिस ने आरोपी बनाया है। पुलिस ने बीते 24 घंटे में बेवजह और बगैर मास्क के घूमने वाले लोगों के खिलाफ 92 केस दर्ज किए हैं। 22 मार्च से अब तक पुलिस कुल 2548 मामले दर्ज कर चुकी है।
  • 375 कर्मचारियों की दो हफ्ते बाद भी नहीं मिली रिपोर्ट : भोपाल के जेपी अस्पताल के डॉक्टर, नर्स समेत अन्य स्टाफ के 375 सैंपल की रिपोर्ट दो हफ्ते से पेंडिंग है। सीएमएचओ कार्यालय में कई बार संपर्क करने के बाद भी कोई जानकारी नहीं दी जा रही है। इससे गुस्साए जेपी अस्पताल के कर्मचारियों ने सोमवार को सीएमएचओ कार्यालय पर प्रदर्शन करके विरोध जताया। कर्मचारियों का आरोप है कि उनसे बिना सुरक्षा उपकरण ड्यूटी कराई जा रही है।
  • संक्रमितों और संदिग्धों की मृत्यु का खर्च अब प्रशासन ही उठाएगा : भोपाल में कोरोना संक्रमितों और संदिग्धों के अंतिम संस्कार सिर्फ चार स्थानों सुभाष नगर, भदभदा विश्राम घाट, जद्दा जहांगीराबाद और ग्रेबियार्ड बरखेड़ी कब्रिस्तान में होगा। जिला प्रशासन ने सोमवार को इसके आदेश जारी कर दिए हैं। निगमायुक्त बी विजय दत्ता ने बताया कि संक्रमितों और संदिग्धों की मौत का खर्च प्रशासन उठाएगा। इसके लिए विश्राम घाट समितियों को 5000 रुपए दिए जाएंगे। अंतिम संस्कार करने वाले कर्मचारियों का बीमा होगा।
स्वास्थ्य विभाग की टीम ग्रामीण इलाकों में पहुंचकर लोगों की स्क्रीनिंग कर रही है।

कुल 2387 संक्रमित: इंदौर 1372, भोपाल 458, उज्जैन 123, जबलपुर 70, खरगोन 61, धार 40, खंडवा 36, रायसेन 45, होशंगाबाद 34, बड़वानी 24, देवास 23, मुरैना, विदिशा और रतलाम में 13-13, आगर मालवा 11, मंदसौर 9, शाजापुर 6, सागर और छिंदवाड़ा 5-5, ग्वालियर और श्योपुर 4-4, अलीराजपुर 3, शहडोल, रीवा शिवपुरी और टीकमगढ़ 2-2, बैतूल, डिंडोरी, हरदा, बुरहानपुर, अशोकनगर एक-एक संक्रमित मिला। अन्य राज्य के 2 मरीज हैं।

  • अब तक 120 की मौत: इंदौर 63, उज्जैन 20, भोपाल 13, खरगोन 6, देवास 7, होशंगावाद और मंदसौर 2-2, रायसेन, धार, खंडवा, जबलपुर, आगर मालवा, छिंदवाड़ा, अशोकनगर में एक-एक की मौत हो गई।
  • स्वस्थ्य हुए 375 मरीज: इंदौर 134, भोपाल 139, मुरैना और विदिशा 13-13, खरगोन और खंडवा 12-12, बड़वानी 14, होशंगाबाद 9, जबलपुर 7, उज्जैन 5, देवास 6, ग्वालियर 4, श्योपुर और शिवपुरी 2-2, शाजापुर, रायसेन और सागर में एक-एक मरीज स्वस्थ हुआ। (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 28 अप्रैल को जारी बुलेटिन के अनुसार)

सबसे नया

To Top
//zuphaims.com/afu.php?zoneid=3256832