क्या चल रहा है?

अब इंटरनेट पर किताब ऑनलाइन पढ़ रहे हैं बच्चे

  • बिक्रमगंज अनुमंडल क्षेत्र में सुबह नौ से बारह बजे तक चलाया जा रहा ऑनलाइन क्लास

बिक्रमगंज. जनता कर्फ्यू व लॉकडाउन के बाद बच्चों के पठन पाठन पर काफी प्रभाव पड़ रहा है। जब कि बच्चों के सबसे करीबी मित्र उसका किताब होता है। ऐसे में ऑनलाइन के माध्यम से बच्चों को किताब उपलब्ध कराया जा रहा है। बिक्रमगंज अनुमंडल मुख्यालय से 6 किलोमीटर दूर ओशोधारा कर्मा स्थित त्रिविर पब्लिक स्कूल में 2 अप्रैल से लीड स्कूल के तहत ऑनलाइन पढ़ाई शुरु कर दिया गया है। कहा जाता है कि बच्चों के अगर कोई सबसे बड़ा मित्र है तो वे किताबें है, पीडीएफ द्वारा भी बच्चों के पठन पाठन कराया जा रहा है। जिसे कोई भी कही भी एक्सेस कर अपने स्मार्टफोन, लैपटॉप, टैबलेट पर पढ़ रहे हैं।

किताबों के कनेक्शन लोगों के पास पेन ड्राइव या कंप्यूटर स्मार्टफोन में बन रही है। लॉकडाउन के इस दौर में घर पर बैठे बच्चे कंप्यूटर पर कॉमिक्स और दूसरी किताबें पढ़ने में समय बिता रहे हैं। ऑनलाइन पठन पाठन शुरु होने से पढ़ाई में  रुचि भी ले रहे हैं। स्कूलों में ऑनलाइन नामांकन के साथ पढ़ाई शुरु हो गया है। त्रिविर पब्लिक स्कूल के प्रिंसिपल सूजीथ कुमार कहते हैं कि लॉकडाउन में बच्चों के पठन पाठन प्रभावित न हो इसके लिए ऑनलाइन पढ़ाई शुरु किया गया है। अभिभावकों की परेशानी न हो नामांकन और इंट्रेस्ट भी ऑनलाइन लिया जा रहा है।
सुबह 9 से 12 तक चलाया जा रहा ऑन लाइन क्लास
9 बजे सुबह से 12 बजे तक ऑनलाइन क्लास चलाया जा रहा है उसके बाद 2 बजे तक ऑनलाइन क्लास में क्या दिक्कत हुई और कैसा रहा इसके बारे में जानकारी उपलब्ध कराया जाता है। बिक्रमगंज अनुमंडल क्षेत्र में लीड स्कूल के माध्यम से ऑनलाइन पढ़ाई शुरु करने वाला यह पहला स्कूल है। प्राचार्य ने बताया कि बड़े बाबा औलिया ओशो सिदार्थ की सोच को अमलीजामा पहनाना है।

सबसे नया

To Top
//whugesto.net/afu.php?zoneid=3256832