क्या चल रहा है?

अजय देवगन के ट्वीट पर मुंबई पुलिस का जवाब, इंटरनेट पर मचा रहा धूम

कोरोना वायरस के कहर से मुंबई को बचाने के लिए डॉक्टर और पुलिस प्रशासन अपना पूरा जोर लगा रहे हैं. एक तरफ जहां डॉक्टर्स अपनी जान हथेली पर रखकर पूरे वक्त कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का इलाज करने में लगे हुए हैं वहीं पुलिस प्रशासन बिना छुट्टी लिए जी जान से लॉकडाउन को सफल कराने में कड़ी मेहनत कर रहा है. हाल ही में मुंबई पुलिस और अजय देवगन के बीच ट्विटर पर एक छोटी सी बातचीत हुई जिसने पूरे इंटरनेट का दिल जीत लिया है. इसे काफी पसंद किया जा रहा है.

बात शुरू हुई उस वीडियो से जिसे मुंबई पुलिस ने ट्विटर पर शेयर किया था. इस वीडियो में मुंबई पुलिस ने लोगों से पूछा कि क्या वे इस 21 दिन के लॉकडाउन में घर के अंदर बोर हो गए हैं? अगर हां, तो चलिए बात करते हैं उन पुलिस वालों से जो बिना थके लगातार काम कर रहे हैं, कि अगर उन्हें 21 दिन के लिए घरों में बंद कर दिया जाए तो वे क्या करेंगे? अधिकतर पुलिस वालों ने कहा कि उनकी नौकरी ऐसी है कि परिवार के साथ वक्त नहीं मिल पाता. तो ऐसे में वो अपने परिवार के साथ वक्त बिताएंगे. कुछ ने कहा कि वो किताबें पढ़ेंगे, बच्चों के साथ खेलेंगे. फिल्में देखेंगे.

अजय देवगन को ये वीडियो इतना पसंद आया कि ट्रिब्यूट देते हुए उन्होंने इस वीडियो को शेयर कर दिया और लिखा- मुंबई पुलिस कोरोना वायरस के साथ जंग लड़ रही है. अजय देवगन के इस ट्वीट पर जवाब देते हुए मुंबई पुलिस ने लिखा, “डियर सिंघम, हम बस वो कर रहे हैं जो करने की खाकी से उम्मीद की जाती है. ताकि चीजें वापस पहले जैसी हो सकें. Once Upon a Time in Mumbai. लोगों को मुंबई पुलिस का ये ट्वीट बहुत ज्यादा पसंद आया है.

आज भी नहीं पता लोगों को मोगली का सही नाम, जानिए जंगल बुक के किस्से

अगर नहीं बनता टीवी शो विक्रम बेताल, तो रामायण नहीं देख पाते आप!

ताकि मुंबई फिर से सपनों का शहर बन सके

लोग ट्विटर पर इसे खूब शेयर कर रहे हैं. बता दें कि सरकार के लगातार अनुरोध के बाद भी कुछ लोग बात को समझ नहीं रहे हैं और घरों से बाहर निकल रहे हैं. पुलिस ऐसे लोगों को बलपूर्वक घरों में रहने को कह रही है. मुंबई पुलिस ने अपने वीडियो में बताया कि हम काम कर रहे हैं ताकि सपनों की नगरी मुंबई को एक बार सपनों के लिए अनुकूल बनाया जा सके. बता दें कि मुंबई उन जगहों में से एक है जहां कोरोना वायरस के संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले अब तक पाए गए हैं

Source :aajtak.intoday.in

सबसे नया

To Top
//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3256832